photo credit tiwtter ANI
photo credit tiwtter ANI

    लखनऊ: उत्तर प्रदेश में एक बार योगी बाबा का बुलडोजर (Baba’s bulldozer) चला है। इस मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) की प्रशासन ने बहुजन समाज वादी पार्टी के पूर्व विधानपरिषद सदस्य के घर को जमीदोज किया है। दरसल सहारनपुर में ज़िला प्रशासन ने पूर्व बसपा एमएलसी हाजी इकबाल (BSP Former MLC Haji Iqbal) की अवैध संपत्ति को तोड़ कर गिरा दिया गया है।

    नगर मजिस्ट्रेट विवेक चतुर्वेदी ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि, कार्रवाई करने से पहले अवैध निर्माण को लेकर इनको नोटिस दिया गया था। बसपा के पूर्व एमएलसी हाजी इकबाल को नोटिस के साथ हर कानूनी प्रक्रिया को पूर्ण किया गया। इसके अलावा उनको अपना पक्ष रखने के लिए पूरा समय भी दिया गया था। कोई ठोस एविडेंस या जवाब नही मिला, जिससे यह साबित हो सके कि, यह घर अवैध नही है। जिसके बाद यह कार्रवाई कल से शुरू हुई है, आज तोड़क कार्रवाई पूर्ण होने के बाद इसे बंद कर दिया जाएगा।

    आपको बता दें कि, प्रशासन के मुताबिक यह मकान अवैध रूप से बिना नक्शे के पारित हुए बनाया गया था। आपको बता दें कल सोमवार को योगी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल का 100 दिन पूर्ण किया है। योगी सरकार का लगातार माफियाओं व अवैध कब्जेदारों के खिलाफ एक्शन प्लान चल रहा है। आपको बता दें कि, 25 मार्च 2022 से जून 2022 तक  गैंगस्टर एक्ट में कुल 192 करोड़ 40 लाख 34 हजार 582 रुपए की संपत्ति अबत तक प्रशासन ने जब्त की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार माफियाओं को चिन्हित करके उनके खिलाफ लगातार बड़ी कार्रवाई कर रही है।

    पूर्व MLC हाजी इकबाल के अलावा यूपी प्रशासन की पुलिस ने करीब 2,433 बदमाशों और माफियाओं को चिन्हित किया है। जबसे यूपी में दुबारा बीजेपी की सरकार बनी है, तबसे लेकर आब तक सैकड़ो अपराधियों का एनकाउंटर हो चुका है। एक आकड़ों के अनुसार 25 मार्च 2022 से 1 जुलाई 2022 के बीच करीब 525 एनकाउंटर हुए हैं। एन एनकाउंटर के दौरान 1034 अपराधी गिरफ्तार और 425 बदमाश मुठभेड़ में बुरी तरह जख्मी हुए हैं। यदि इसी तरह उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ जमीनी स्तर पर पुलिसिया कार्रवाई करती रही तो निश्चित ही अपराधियों की संख्या बड़ी गिरावट आएगी।