delhi-mcd-bjp-congress-councillors-protest-create-ruckus-house-adjourned

Loading

नई दिल्ली: दिल्ली नगर निगम (MCD) के सदन बुधवार (29 नवंबर) को बैठक शुरू होने के बाद बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) के पार्षदों ने जमकर प्रदर्शन किया। जिसके मद्देनजर सदन की कार्यवाही को स्थगित (MCD House Adjourned)  कर दिया गया है। आज पहले सदन की बैठक शुरू होते ही बीजेपी पार्षदों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया और हाथों में तख्तियां लेकर स्थायी समिति या वार्ड समिति बनाने की मांग की। वहीं,कांग्रेस के पार्षदों ने सदन में जमकर बवाल किया। 

सदन की कार्यवाही शुरू होते ही मेयर शैली ओबेरॉय ने पक्ष विपक्ष के पार्षदों से निवेदन किया की सदन की कार्यवाही चलने दें क्योंकि दिल्ली की जनता ने जिन कामों के लिए चुनकर सदन में भेजा है उनमें अवरोध न हों। लेकिन बैठक शुरू होने के थोड़ी देर बाद ही विपक्षी दलों ने हंगामा शुरू हो गया दिया। वहीं, कांग्रेस के पार्षदों ने भी स्थाई समिति और वार्ड कमिटी के गठन की मांग करते हुए हंगामा किया।

महिला पार्षदों ने टिप्पणी करने वाले व्यक्ति की पहचान करने के लिए सदन की रिकॉर्डिंग की जांच करने की मांग की है। इससे पहले दिन में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस पार्षदों ने स्थायी समिति का गठन न होने और गृहकर में वृद्धि को लेकर बुधवार को विरोध प्रदर्शन कर एमसीडी की बैठक को बाधित किया।

विपक्षी पार्षदों की नारेबाजी के बीच अपराह्न दो बजकर 19 मिनट पर सदन की बैठक शुरू हुई।कांग्रेस पार्षदों ने आम आदमी पार्टी (आप) के खिलाफ नारे लगाये। उन्होंने हाथों में तख्तियां ले रखी थीं, जिन पर ‘‘स्थायी समिति का गठन करो” और ‘‘गृहकर वापस लो” जैसी मांगें लिखी हुई थीं। भाजपा के पार्षदों ने दिल्ली में कुत्तों से खतरे का मुद्दा उठाया और शहर में कुत्तों के काटने की घटनाओं के संबंध में आंकड़े जारी करने की मांग की।