Special teams sent to 9 states and union territories of the country affected by dengue, efforts intensified to control the increasing cases
File Photo

    जयपुर: डेंगू एवं अन्य मौसमी बीमारियों के बढ़ते प्रकोप के बीच राजस्थान सरकार ने बुधवार से ‘डेंगू मुक्त राजस्थान’ अभियान चलाने का फैसला किया है। इसके तहत सभी जिलों में नियंत्रण कक्ष व विशेष टीमें गठित की गई हैं, साथ ही चिकित्साकर्मियों की छुट्टियों पर भी रोक लगा दी गई है। राज्य के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने मंगलवार को चिकित्सा विभाग के अधिकारियों के साथ मौसमी बीमारियों, कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण व जांच तथा ऑक्सीजन संयंत्र आदि की विभागीय तैयारियों व प्रगति की समीक्षा की।

    एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि शर्मा ने मौसमी बीमारियों की रोकथाम व उपचार व्यवस्था की समीक्षा करते हुए 20 अक्टूबर से तीन नवम्बर तक डेंगू मुक्त राजस्थान अभियान चलाने के निर्देश दिए। इसके तहत सभी जिलों में नियंत्रण कक्ष व त्वरित प्रतिक्रिया बलों का गठन किया गया है।

    उन्होंने अधिकारियों से कहा कि किसी घर में मलेरिया, डेंगू व चिकनगुनिया का रोगी पाए जाने पर आसपास के 50 घरों में लारवा नष्ट करने की गतिविधियां की जाएं। बयान के अनुसार इसके साथ ही चिकित्सा कर्मियों के अवकाश पर रोक लगा दी गई है और प्रभावित जिलों में राज्य स्तर से नॉडल अधिकारी भेजे जाएंगे। चिकित्सा मंत्री ने कोरोना वायरस संक्रमण और टीकाकरण की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि अधिकारी व कर्मी राजस्थान को टीकाकरण में अग्रणी बनाये रखने के लिए निरन्तर प्रयास करें। (एजेंसी)