राकेश टिकैत (Photo Credits-ANI Twitter)
राकेश टिकैत (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: संसद का शीतकालीन सत्र (Winter Session of Parliament) आज से शुरू हो रहा है। मोदी सरकार आज तीनों कृषि कानून वापस लेने का विधयेक सदन में रखेगी। इससे पहले पीएम मोदी ने आज सुबह कहा कि सरकार हर मसले पर बातचीत और जवाब देने के लिए तैयार है। दूसरी तरफ किसान नेता राकेश टिकैत ने केंद्र (Rakesh Tikait Attacks Modi Govt) पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि सरकार धोखे में रख कर और जालसाजी के साथ मामले को निपटाना चाहती है। दरअसल किसान अब भी धरने पर बैठे हैं। वे एमएसपी पर कानून की मांग कर रहे है। 

    बता दें कि भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि तीन मामलों का समाधान हो गया है अभी 1 मामला बाकी है। 1 साल में जो नुकसान हुआ है उस पर सरकार बैठ कर बात करे, समाधान निकल जाएगा। सरकार धोखे में रख कर, जालसाज़ी के साथ ग़लत बयानबाजी करके मामले को निपटाना चाहती है, तो उससे ये मामला खत्म नहीं होगा। 

    राकेश टिकैत का बयान-

    टिकैत ने कहा कि सरकार ये चाहती कि हम बिना बातचीत के यहां से धरना खत्म करके चले जाए। देश में कोई आंदोलन और धरना ना हो। सरकार से जो एक बातचीत का रास्ता है वो बंद हो जाए, तो सरकार इस गलतफहमी में ना रहे। सरकार से बात किए बिना हम नहीं जाएंगे। सरकार से बातचीत का रास्ता खोल के जाएंगे।