15 अक्टूबर को कांग्रेस की किसान बचाओ रैली

  • 50 लाख से ज्यादा किसान लेंगे भाग
  • किसान कानून के खिलाफ हल्ला बोल

मुंबई. केंद्र सरकार (Central Government)  के किसान कानून के खिलाफ प्रदेश कांग्रेस ( State congress) ने 15 अक्टूबर को वर्चुअल किसान बचाओ रैली (Virtual Kisan Bachao rally) का आयोजन किया है. इस रैली में 10 हजार गांवों से 50 लाख से ज्यादा किसानों (Farmers)  के भाग लेने की संभावना है. इस बात की जानकारी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोरात ( Balasaheb Thorat) ने दी है. उन्होंने कहा कि किसान कानून को लेकर महाराष्ट्र में कांग्रेस की सहयोगी एनसीपी ने विरोध जताया है. थोरात ने कहा कि इस बिल के विरोध को लेकर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के साथ भी उनकी चर्चा हुई है. उन्होंने कहा है कि इस कानून से किसानों का नहीं, बल्कि सिर्फ उद्योगपतियों का फायदा होने वाला है.

संगमनेर में मुख्य कार्यक्रम 

मुख्य कार्यक्रम का आयोजन प्रदेश अध्यक्ष थोरात के गढ़ संगमनेर में किया गया है. इस रैली को प्रदेश कांग्रेस प्रभारी एच.के.पाटिल, प्रदेश अध्यक्ष थोरात और पीडब्लूडी मंत्री अशोक चव्हाण समेत कई नेता संबोधित करेंगे. इस मौके पर आदिवासी विकास मंत्री के. सी. पाडवी, अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी ( एआईसीसी ) सचिव और गुजरात प्रभारी राजीव सातव और महाराष्ट्र के सहप्रभारी बी.एम.संदीप भी मौजूद रहेंगे. विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफार्म के जरिए इस रैली का लाइव टेलीकास्ट किया जाएगा.  

कई और जगह होंगे कार्यक्रम  

औरंगाबाद के कार्यक्रम में मेडिकल शिक्षा मंत्री अमित देशमुख और महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्याध्यक्ष बसवराज पाटील मौजूद रहेंगे. अमरावती में महिला और बाल विकास मंत्री यशोमति ठाकुर, नागपुर में ऊर्जा मंत्री नितीन राऊत, पशुसंवर्धन और दुग्धविकास मंत्री सुनील केदार और मदद और पुनवर्सन मंत्री विजय वडेट्टीवार किसानों का नेतृत्व करेंगे. कोंकण में प्रदेश कांग्रेस कमिटी के कार्याध्यक्ष मुज्जफ्फर हुसैन किसानों की अगुवाई करेंगे.