हुनर! शख्स ने 1475 आइसक्रीम स्टिक से बनाई ‘भगवान जगन्नाथ’ की ये मूर्ति, देखें Photos

    ओडिशा. ओडिशा (Odisha) के कण-कण में भगवान जगन्नाथ वास माना जाता है। भगवान जगन्नाथ के प्रति लोगों की आस्था दखते बनती है। हालही में मंदिर में स्नान पूर्णिमा की तैयारी पूरी आस्था के साथ की गई थी। इस बीच खबर है कि, पुरी के रहने वाले शख्स ‘बिस्वजीत नायक’ (Biswajit Nayak) ने स्नान पूर्णिमा के मौके पर 1475 आइसक्रीम स्टिक की मदद से भगवान जगन्नाथ की गजानन बेशा (Ice cream stick Lord Jagannath) की एक छोटी मूर्ति बनाई है। 

    रिपोर्ट के अनुसार, यह मूर्ति 30 इंच लंबी और 26 इंच चौड़ी है, जिसे बनाने में 15 दिन का वक्त लगा है। देखने में यह मूर्ति बेहद आकर्षक और प्यारी है। बता दें कि, स्नान पूर्णिमा से पहले बुधवार शाम ओडिशा के पुरी में जगन्नाथ मंदिर में रोशनी की गई। दरअसल 11वीं सदी के मंदिर के कपाट कोविड19 महामारी के चलते कई हफ्तों तक बंद रहने के बाद 25 जून को खोले गए हैं। 

    कोरोना वैक्सीन ले चुके भक्तों को मिलेगी एंट्री

    दुनिया भर के भक्तों के लिए त्योहार का सीधा प्रसारण किया जाएगा ताकि महामारी के दौरान हजारों भक्तों की भीड़ मंदिर में इकट्ठा नहीं हो। मंदिर के मुख्य प्रशासक डॉ कृष्ण कुमार ने बताया कि केवल पूरी तरह से वैक्सीन लगवा चुके लोगों को ही मंदिर में अनुमति दी जाएगी, वो भी जिनकी कोविड रिपोर्ट निगेटिव होगी।

    Biswajit Naik creates miniature image of Gajanan vesha of Lord Jagannath  using ice cream sticks | Indiablooms - First Portal on Digital News  Management

    15 दिन बाद निकलेगी रथ यात्रा

    डॉ कृष्ण कुमार ने बताया कि जिला प्रशासन ने धारा 144 लागू की है, जिसके चलते मंदिर के बाहर कोई सभा नहीं होगी। इसलिए केवल पारंपरिक अनुष्ठानों का पालन किया जाएगा। वहीं इसके बाद भगवान जगन्नाथ 15 दिनों तक आराम करेंगे और रथ यात्रा के दौरान फिर से प्रकट होंगे।