1/10
प्रत्येक वर्ष का 11 अक्टूबर अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में जाना जाता है। यह दिन पूरा विश्व बड़े धूमधाम से मनाता है।
प्रत्येक वर्ष का 11 अक्टूबर अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस के रूप में जाना जाता है। यह दिन पूरा विश्व बड़े धूमधाम से मनाता है।
2/10
आज पूरा विश्व 7वां अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मना रहा है। प्रथम अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11 अक्टूबर 2012 को मनाया गया। 
आज पूरा विश्व 7वां अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस मना रहा है। प्रथम अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस 11 अक्टूबर 2012 को मनाया गया। 
3/10
संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 19 दिसंबर 2011 को इस बारे में एक प्रस्ताव पारित किया था। पहले अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का थीम ‘बाल विवाह की समाप्ति’ था। 
संयुक्त राष्ट्र महासभा ने वर्ष 19 दिसंबर 2011 को इस बारे में एक प्रस्ताव पारित किया था। पहले अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस का थीम ‘बाल विवाह की समाप्ति’ था। 
4/10
file photo
file photo
5/10
PCPNDT: District level vigilance committee meeting held, 972 girls per 1,000 boys in the district
PCPNDT: District level vigilance committee meeting held, 972 girls per 1,000 boys in the district
6/10
जीवन के हर क्षेत्र में लड़कियों के खिलाफ भेदभाव, हिंसा, शिक्षा का उचित अवसर न देना जैसे कई मुद्दों के खिलाफ आवाज बुलंद करना भी इस दिन का उद्देश्य है। इस दिन दुनिया भर की बालिकाओं के प्रति सम्मान और प्यार जाहिर किया जाता है। 
जीवन के हर क्षेत्र में लड़कियों के खिलाफ भेदभाव, हिंसा, शिक्षा का उचित अवसर न देना जैसे कई मुद्दों के खिलाफ आवाज बुलंद करना भी इस दिन का उद्देश्य है। इस दिन दुनिया भर की बालिकाओं के प्रति सम्मान और प्यार जाहिर किया जाता है। 
7/10
8/10
इस थीम का उद्देश्य समाज में यह जागरूकता फैलाना है कि कैसे छोटी लड़कियां आज पूरे विश्व को एक मार्ग दिखाने की कोशिश कर रही हैं।   
इस थीम का उद्देश्य समाज में यह जागरूकता फैलाना है कि कैसे छोटी लड़कियां आज पूरे विश्व को एक मार्ग दिखाने की कोशिश कर रही हैं।   
9/10
इस  दिन का महत्त्व इसलिए भी है कि सालों से चली आ रही बाल विवाह, दहेज और कन्या भ्रूण हत्या जैसी रुढ़िवादी प्रथाओं को खत्म किया जाए।
इस  दिन का महत्त्व इसलिए भी है कि सालों से चली आ रही बाल विवाह, दहेज और कन्या भ्रूण हत्या जैसी रुढ़िवादी प्रथाओं को खत्म किया जाए।
10/10
भारतीय सरकार लड़कियों को उनके अधिकार देने की दिशा में काम कर रही है और कई योजनाएं भी लागू कर रही है।
भारतीय सरकार लड़कियों को उनके अधिकार देने की दिशा में काम कर रही है और कई योजनाएं भी लागू कर रही है।