अब जमानत हो भी गईं तो खोई हुई प्रतिष्ठा वापस नहीं आएगी

    ड्रग्स प्रकरण ने बालीवुड की नामी हस्तियों की नींद उड़ा दी है. सुपर स्टार और किंग खान कहलाने वाले अभिनेता शाहरुख का बेटा आर्यन खान 24 दिनों से हिरासत में है. इतने दिनों में बड़े-बड़े वकील भी उसकी जमानत नहीं करा पाए. नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो जमानत का लगातार कड़ा विरोध करता रहा है. उसकी दलील है कि ऐसा हुआ तो सबूतों और गवाहों से छेड़छाड़ हो सकती है. यदि अब जमानत हो भी गई तो क्या!  

    ऐसे करमों के बाद हौद से गई प्रतिष्ठा चुल्लू से वापस नहीं आ पाएगी. चमक-दमक वाली फिल्मी दुनिया का काला सच सामने आया है. नशीले पदार्थों की लत ने कितने ही फिल्मी सितारों को जकड़ रखा है. समय-समय पर रेव पार्टियां होती हैं जिनमें ड्रग्स का सेवन किया जाता है. सुशांतसिंह राजपूत की रहस्यमय मौत के बाद उसकी गर्लफ्रेंड रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी के बाद से बालीवुड और ड्रग्स का कनेक्शन सामने आने लगा. 

    इसके बाद टीवी चैनल्स ने एक रेव पार्टी के नशे में डूबे सितारों को भी दिखाया जिनमें दीपिका पादुकोण, मलाइका अरोरा, अर्जुन कपूर आदि नजर आए. तभी अहसास हुआ कि फिल्म जगत में मौज मस्ती के लिए ड्रग्स लेना आम बात है. स्टार किड्स भी आदी हो जाते हैं. अभिनेता चंकी पांडे की बेटी तथा कुछ फिल्मों में अभिनय कर चुकी अनन्या पांडे ने भी एनसीबी 4 बार लंबी पूछताछ कर चुकी है. 

    संभवत: ऐसे हाईप्रोफाइल लोगों को बचाने के लिहाज से ही सामाजिक न्याय मंत्रालय ने सिफारिश की है कि कम मात्रा में ड्रग्स रखने और सेवन करने वालों को कोई सजा न दी जाए. इसे अपराध न माना जाए. यदि ऐसा कानूनी प्रावधान किया गया तो नशाखोरों को कोई डर ही नहीं रह जाएगा तथा नशे का जाल और भी व्यापक रूप से फैलता चला जाएगा जो कि युवा पीढ़ी के लिए बहुत बड़ा अभिशाप है.