टीएस सिंह देव के रवैये से कांग्रेस आलाकमान नाराज, पार्टी में रहना है या नहीं खुद ले निर्णय

    रायपुर: छत्तीसगढ़ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मंत्री टीएस सिंह देव ने जिस तरह से पंचायती राज मंत्री से इस्तीफा दिया है, उसको लेकर कांग्रेस आलाकमान बेहद नाराज है। मीडिया में चल रही खबरों की मानें तो टीएस के बर्ताव को सही माना है। इसी के साथ पार्टी के शीर्ष नेताओं ने उनपर छोड़ दिया है कि, उन्हें पार्टी में रहना है या नहीं रहना उनपर छोड़ दिया है। 

    ज्ञात हो कि, शनिवार को टीएस सिंह देव ने चायती राज मंत्री से इस्तीफा दे दिया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को लिखे पत्र में उन्होंने सरकार पर कई योजनाओं को लागू करने के लिए धन आवंटन नहीं करने की बात कही है। सिंहदेव ने लिखा, पंचायती राज मंत्री रहते हुए मैंने कई बार आप से प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए धन आवंटन करने की मांग की, लेकिन उसपर कोई निर्णय नहीं केने के कारण आठ लाख परिवार घर से वंचित रह गए। इसी के साथ उन्होंने आदिवासियों के लिए बने जल, जंगल जमीन को लेकर बनी समिति को बिना बताए बदलाव पर अपनी नराजभी जताई। हालांकि, वह लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, बीस सूत्रीय कार्यान्वयन, वाणिज्यिक कर (जीएसटी) विभाग के मंत्री बने रहेंगे। 

    मुझे नहीं मिला इस्तीफा 

    टीएस सिंह देव पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि, “मुझे अभी तक कोई इस्तीफा नहीं मिला है। मैंने भी मीडिया के माध्यम से यह खबर देखी है। रात में मैंने उन्हें फ़ोन भी किया था लेकिन फ़ोन लगा नहीं।” वहीं इस्तीफे पर उन्होंने कहा कि, जब उन्हें मिलेगा उसपर विचार करेंगे।