Unseasonal Rain

छत्रपति संभाजीनगर: छत्रपति संभाजीनगर (Chhatrapati Sambhajinagar) के जिलाधिकारी आस्तिक कुमार पांडेय (Astik Kumar Pandey) ने शुक्रवार को बेमौसम बारिश (Unseasonal Rain) से प्रभावित क्षेत्रों का निरीक्षण किया और वहां किसानों (Farmers) से बातचीत की। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार किसानों के साथ मजबूती के साथ खड़ी है। कलेक्टर पांडेय ने अधिकारियों को हड़ताल पर गए कर्मचारियों को तत्काल हटाकर पंचनामा पूरा करने का आदेश भी दिया।

जिले के कुछ हिस्सों में 6, 7, 16 और 17 मार्च को बेमौसम बारिश हुई। इस बारिश से गेहूं, चना, ज्वार, अनार और सब्जियों की फसलों को बड़े पैमाने पर नुकसान हुई हैं। बेमौसम बारिश से किसानों ने की फसलें खराब हो गई हैं। इसी पृष्ठभूमि में कलेक्टर आस्तिक कुमार पाण्डेय ने शुक्रवार को बारिश से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। उन्होंने शेकटा के निकट स्थित वाहेगांव देमणी परिसर में बलवंत तांगडे नाम के किसान के खेत में पहुंचकर बेमौसम बारिश से खराब हुई फसल का जायजा लिया। इस अवसर पर उपविभागीय अधिकार रामेश्वर रोडगे, जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी प्रकाश देशमुख, तहसीलदार ज्योति पवार, अपर तहसीलदार विजय चव्हाण सहित जिला प्रशासन और कृषि विभाग के अधिकारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे। गौरतलब है कि गत दो दिन से मराठवाडा में बेमौसम बारिश का कहर जारी था। शुक्रवार को लोगों ने बेमौसम बारिश से मामूली राहत मिली। गुरुवार को मराठवाडा के सभी आठ जिलों में आसमान में बादल छाए हुए थे, परंतु बुधवार की रात से संभाग के सभी जिलों में बेमौसम बारिश ने कहर बरपाना शुरु किया। 

25 मार्च तक हो सकती है बारिश

बारिश के चलते बड़े पैमाने पर छत्रपति संभाजीनगर सहित आस-पास के जिलों में फसलें खराब हो गई। विशेषकर, छत्रपति संभाजीनगर जिले के अलावा नांदेड, जालना, बीड, परभणी में बारिश का कहर गत दो दिन से जारी था। उधर, मौसम विभाग ने छत्रपति संभाजीनगर सहित संभाग के सभी जिलों में 25 मार्च तक बारिश जारी रहने की आशंका व्यक्त की है।