Aurangabad Vaccination

    औरंगाबाद : कोरोना (Corona) की संभावित तीसरी लहर (The Third Wave) को रोकने के लिए पात्र नागरिक अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र (Vaccination Center) में टीकाकरण करवाएं। वैक्सीन (Vaccine) पूरी तरह से सुरक्षित है। टीकाकरण, चाहे वह कोरोना ही क्यों न हो, असुविधा को कम करता है और हम कम समय में ठीक हो जाते हैं। जिला कलेक्टर सुनील चव्हाण (Sunil Chavan) ने कहा कि टीकाकरण को बढ़ाने के लिए मैं जिले के पहले 25 गांवों में विकास कार्यों के लिए अतिरिक्त धनराशि उपलब्ध कराऊंगा, जिनका शत-प्रतिशत टीकाकरण हो चुका है। टीकाकरण का प्रतिशत कम होने के कारण जिला कलेक्टर चव्हाण ने जिले में कोरोना टीकाकरण दर बढ़ाने के लिए कदम उठाए हैं।

    जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में आज गालेबोरगांव, वेरुल, तलाववाड़ी, सुलीभंजन, कागजीपुरा में ग्राम सभा का आयोजन किया गया। इस ग्राम सभा में उन्होंने टीकाकरण की अपील की।  इस सिलसिले में सोमवार की रात 8 बजे जिलाधिकारी सुनील चव्हाण ने कागजीपुरा स्थित फैज-ए-आम ट्रस्ट के चैरिटी अस्पताल का दौरा किया। उसके बाद रात 9 बजे उन्होंने कई मुसलमानों से वेरुल की दरगाह मस्जिद में टीका लगवाने की अपील की। उनके रहने की व्यवस्था सरपंच विशाल खोसरे के भाई दत्ता खोसरे के फार्म हाउस में की गई थी। जिला कलेक्टर चव्हाण ने रात में ग्रामीणों के साथ भोजन किया, इस दौरान ग्रामीणों ने टीकाकरण सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की। साथ ही जिला कलेक्टर चव्हाण ने गाले बोरगांव में शत-प्रतिशत टीकाकरण पूरा करने की ग्रामीणों से अपील की।

    कलेक्टर ने शिवर फेरी का दौरा किया

    जिला कलेक्टर ने शिवर फेरी का दौरा किया, इस बीच गाले बोरगांव से 6 किमी पैदल चलकर उन्होंने शिवना तकली मीडियम प्रोजेक्ट का दौरा किया। उनके साथ सरपंच विशाल खोसरे, उप सरपंच रामदास चंद्रातीके, पुलिस पाटिल सिंधु बड़े, तुकाराम हरदे, संजय भागवत, संतोष राजपूत और दिलीप बेदवाल भी थे। इस दौरान जिला कलेक्टर सुनील चव्हाण ने गांव का दौरा करते हुए तकली के प्रगतिशील किसान अशोक अहेर और बालू दादा अहेर के आवासों पर शिष्टाचार भेंट कर अहेर परिवार से बातचीत की। कई ग्रामीणों ने यह कहते हुए उत्सुकता से प्रतिक्रिया व्यक्त की  कि  हमने पहले जिला कलेक्टर चव्हाण साहब को देखा, जो गाँवों में गए और गाँव में रहे, लोगों से सीधे संवाद करते हुए और उनकी समस्याओं को जानकर उन्हें टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित किया।

    गन्ना श्रमिकों का टीकाकरण करने के भी निर्देश दिए

    जिला कलेक्टर सुनील चव्हाण और पुलिस अधीक्षक निमित गोयल ने गाले बोरगांव में टीकाकरण बूथ का दौरा किया और टीकाकरण का निरीक्षण किया। उसके बाद गाले बोरगांव ग्राम पंचायत कार्यालय में जिलाधिकारी सुनील चव्हाण की अध्यक्षता में और औरंगाबाद के पुलिस अधीक्षक निमित गोयल की उपस्थिति में ग्राम सभा का आयोजन किया गया। इस दौरान मतदाता सूची का वाचन किया गया। उन्होंने असंगठित कामगारों से भी अपील की कि वे पंजीकरण कराएं और बाकी नागरिकों को तुरंत टीकाकरण कराएं। उन्होंने संबंधित स्वास्थ्य विभाग को गाले बोरगांव क्षेत्र में 700 गन्ना श्रमिकों का टीकाकरण करने के भी निर्देश दिए। अनुमंडल अधिकारी जनार्दन विधाते, तहसीलदार सुरेंद्र देशमुख, पुलिस निरीक्षक सीताराम मेहत्रे, समूह विकास अधिकारी प्रवीण सुरदकर, तालुका स्वास्थ्य अधिकारी डॉ। किरण शिंदे, सरपंच विशाल खोसरे, उप सरपंच रामदास चंद्रातीके, अध्यक्ष तुकाराम हराडे, पुलिस पाटिल सिंधु बधे, चिकित्सा अधिकारी डॉ. बलराज पांडवे सहित बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।