अग्निपथ को लेकर राकांपा ने सौंपा ज्ञापन

    सालेकसा. अन्यायकारी अग्निपथ योजना को रद्द करने की मांग को लेकर तहसील राकांपा द्वारा राष्ट्रपति के नाम लिखा ज्ञापन तहसीलदार कोंडागोर्ले को सौंपकर  कहा गया है कि  केंद्र सरकार द्वारा सेना में अग्निपथ योजना के तहत देश के युवाओं को मात्र 4 वर्ष के लिए भर्ती कराए जाने की घोषणा की गई है जिसमें साढे 17 से 23 वर्ष तक के युवाओं को लिया जाएगा. इसका पूरे में युवाओं द्वारा किया जा रहा है.

    भारतीय सैन्य दल ही एकमात्र ऐसा नौकरी का साधन था जिसमें मध्यम व निम्न वर्ग के युवा बिना शर्त व बिना रिश्वत दिए अपनी नौकरी सुनिश्चित करते हैं और इसके लिए युवा वर्ग कड़ी मेहनत  करने में भी पीछे नहीं रहते. अन्य विभागों में नौकरी के लिए जान पहचान व रुपयों  से काम चल जाता है लेकिन सेना में मेहनत, ताकत व अपनी कार्यकुशलता के बल पर  नौकरी मिलती है.

    लेकिन अब अग्निपथ जैसी योजना के लागु होते ही इन युवाओं का मनोबल टूटने लगा है और इसी वजह से संपूर्ण देश में युवाओं द्वारा इस योजना का विरोध किया जा रहा है. देश के युवाओं के समर्थन में तहसील राकांपा की ओर से यह ज्ञापन सौंपा गया. प्रतिनिधि मंडल में तहसील राष्ट्रवादी कांग्रेस के महासचिव निकेश गावड़, युवा अध्यक्ष रोहित बनोठे, अल्पसंखक विभाग जिला उपाध्यक्ष माइकल मेश्राम, रघुदास  नागपुरे, संदीप मिश्रा, राजेश कनोजे, राहुल कनोज, अमित मेश्राम आदि का समावेश था.