Maharashtra ACB's action against corruption, case registered against sub-divisional magistrate in bribery case, revenue officer arrested
File

    औरंगाबाद: महाराष्ट्र (Maharashtra) के उस्मानाबाद (Osmanabad) में भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो (एसीबी) (ACB) ने रेत परिवहन व्यवसाय में शामिल एक व्यक्ति से 20,000 रुपये की कथित तौर पर घूस लेने के लिए महिला उपजिलाधिकारी के खिलाफ रिश्वतखोरी का मामला दर्ज किया है और एक कोतवाल (राजस्व अधिकारी) को गिरफ्तार किया है।

    एसीबी ने बुधवार को जारी एक विज्ञप्ति में बताया कि दोनों आरोपियों ने व्यवसायी को रेत परिवहन के लिए बिना किसी बाधा के उत्खनक, ट्रक और ट्रैक्टरों को अनुमति देने के लिए उससे कथित तौर पर 1.10 लाख रुपये रिश्वत के तौर पर मांगे थे। भ्रष्टाचार रोधी एजेंसी ने बताया कि बातचीत के बाद, सौदा 90,000 रुपये पर तय हुआ और उपजिलाधिकारी मनीषा राशिंकर ने किश्त के तौर पर 20,000 रुपये स्वीकार करने पर कथित तौर पर सहमति दी।

    विज्ञप्ति में बताया गया कि शख्स ने एसीबी में शिकायत की और ब्यूरो ने कोतवाल विलास जानकर को मंगलवार को घूस लेते हुए पकड़ लिया। एसीबी ने बताया कि दोनों के खिलाफ उस्मानाबाद में भूम थाने में मामला दर्ज किया गया है।