hijab
Representative Photo

    नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) से आ रही एक बड़ी खबर के अनुसार यहाँ मुंबई (Mumbai) के पास विरार (Virar) के एक लॉ कॉलेज (Law Collage) की प्रिंसिपल ने यह आरोप लगाते हुए इस्तीफा दे दिया है कि उनके द्वारा हिजाब पहनने की वजह से कॉलेज प्रबंधन ने उसके साथ घोर बदसलूकी की है। इधर प्रिंसिपल के दावे के बाद विरार पुलिस वीवी कॉलेज के लॉ कैंपस में पहुंची थी और मैनेजमेंट से इस बाबत मालूमात भी कि थी। 

    इस मुद्दे पर लॉ कॉलेज में प्रिंसिपल रहीं बट्टुल हमीद ने कहा कि वह यहां बहुत ही ज्यादा असहज महसूस करती थीं। साथ ही उनका कहना था कि, ” मैंने अपने आत्मसम्मान और संस्कृति को बचाने के लिए यहाँ से इस्तीफा दे दिया है।” वहीं कॉलेज प्रबंधन का अलग ही कहना है कि, दरअसल उनके अनुसार उनके कॉलेज में दाउदी बोहरा समुदाय की भी बहुत सारी छात्राएं पढ़ती हैं और वे भी हिजाब पहनती हैं लेकिन उन्हें कभी भी कोई परेशानी नहीं हुई। 

    जानकारी के मुताबिक बट्टुल हमीद ने जुलाई 2019 में ही कॉलेज जॉइन किया था। उन्होंने कहा, तीन साल में उनके कभी हिजाब को लेकर कोई दिक्कत नहीं हुई लेकिन जब से यह विवाद शुरू हुआ है, तभी से मैनेजमेंट ने भी बदसलूकी शुरू कर दी। प्रिंसिपल ने कहा, “मुझे शारीरिक दिक्कत की वजह से बैग उठाने में परेशानी होती थी लेकिन वे लोग मेरे चपरासी को मेरा बैग तक नहीं उठाने देते थे।” 

    उसके बाद उन्होंने कहा कि, “कुछ दिन पहले दाऊदी बोहरा समुदाय की कुछ स्टूडेंट मेरे पास आई थीं और ऐडमिशन की जानकारी ले रही थीं। इसके बाद प्रबंधन आरोप लगाने लगा कि मैं कैंपस में अपने लोगों को बढ़ाने का काम कर रही हूं।”