Government gave compensation of lakhs of rupees to fishermen in Maharashtra for leaving protected marine life back to the sea
File Photo

    मुंबई: महाराष्ट्र में कोरोना वायरस (Corona Virus) के नए वेरियंट ओमीक्रोन (New Variants Omicron) के बढ़ते संकट को देखते हुए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray ) गंभीर हो गए हैं। सोमवार को उन्होंने इस बारे में राज्य के आला अधिकारियों समेत राज्य के टास्क फ़ोर्स (Task Force) के साथ ख़ास बैठक की। सूत्रों के मुताबिक, राज्य सरकार इस वायरस के संक्रमण को रोकने के नए प्रतिबंध (New Restrictions) लगाने की तैयारी में है। मुख्यमंत्री ठाकरे ने टास्क फ़ोर्स के साथ पूरे हालात की समीक्षा की है।

    उन्होंने टास्क फ़ोर्स की टीम को किसी भी संभावित संकट से निपटने के लिए तैयार रहने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने अस्पतालों में बेड की उपलब्धता से लेकर ऑक्सीजन उत्पादन की स्थिति की भी रिपोर्ट ली है। वहीं कैबिनेट मंत्री आदित्य ठाकरे ने कहा है कि ओमीक्रोन के मद्देनजर न केवल हवाई अड्डों बल्कि सभी इंट्री पॉइंट्स पर बड़ी संख्या में परीक्षण किया जा रहा है। उन्होंने कॉरपोरेट कार्यालयों को हर सप्ताह आरटी-पीसीआर परीक्षण कराने का भी सुझाव दिया है। हालांकि आदित्य ठाकरे ने कहा कि इस वजह से अभी घबराने की जरूरत नहीं है। उन्होंने लोगों को कोविड-19 के टीके लगाने को प्राथमिकता देने की बात कही है। 

    महाराष्ट्र में ओमीक्रोन के 8 केस

    महाराष्ट्र में ओमीक्रोन वायरस से संक्रमित लोगों की कुल संख्या 8 हो गई है। पुणे से सटे पिंपरी-चिंचवड़ में 6 लोगों के इस वेरिएंट से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। इसके अलावा मुंबई से सटे डोम्बिवली और पुणे शहर में एक-एक मरीज की पुष्टि हुई है। पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका के कमिश्नर राजेश पाटिल ने कहा है कि जल्द ही शहर में नई गाइडलाइंस जारी करके भीड़ को नियंत्रित करने के लिए प्रतिबंध लगाए जाएंगे। उन्होंने लोगों से भी कोविड नियमों का कड़ाई से पालन करने की अपील की है।

    समीक्षा के बाद फैसला 

     राज्य के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा है कि ओमीक्रोन मरीजों की की बढ़ती संख्या को देखते सरकार सतर्क हो गई है, लेकिन तत्काल कड़े प्रतिबंध लगाना लोगों के लिए मुश्किल हो सकता है। उन्होंने कहा कि इस बारे में स्थिति की समीक्षा के बाद मुख्यमंत्री अंतिम निर्णय लेंगे। टोपे ने स्पष्ट किया कि राज्य में कई जगहों पर स्कूल शुरू कर दिए गए हैं और जिन्होंने शुरू नहीं किया है उन्हें स्कूल शुरू करने की सलाह दी जाएगी।

    बूस्टर डोज पर जल्द फैसला ले केंद्र सरकार 

    उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने ओमीक्रोन संकट को देखते हुए लोगों को बूस्टर डोज देने के बारे में केंद्र सरकार से जल्द फैसला लेने की अपील की है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और प्रशासन के सभी लोग इस पर पूरा ध्यान दे रहे हैं। केंद्र सरकार को भी इस बारे में कड़े कदम उठाने की जरुरत है। उन्होंने कहा कि जहां भी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे हैं, वहां नियमों का सख्ती से पालन किया जाना चाहिए।