aditya

    मुंबई. सुबह की बड़ी खबर के अनुसार आज यानी सोमवार 24 हंवारी से महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना (Corona) के तांडव के बीचकक्षा 1-12 तक के लिए स्कूल (School Reopen) खोले जाएंगे। हालांकि अभिभावकों का एक बड़ा वर्ग इस फैसले के अब भोई खिलाफ है और अपने बच्चों को स्कूल भेजने के में वे बिल्कुल भी सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं। 

    वहीं इन सबके बीच महाराष्ट्र सरकार में मंत्री आदित्य ठाकरे (Aditya Thackrey) ने कहा कि, “हमने सारे स्कूलों में बच्चों का जाना अनिवार्य नहीं किया है। कुछ ज़िलों में स्कूल खुल रहे हैं कुछ ज़िलों में बंद हैं। यह अभिभावकों के ऊपर निर्भर करता है कि अगर वह अपने बच्चों को स्कूल भेजने में सुरक्षित महसूस करते हैं तो वे जरुर अपने बच्चों को स्कूल भेज सकते हैं।

    62% अभिभावक बच्चों को अब भी नहीं भेजना नहीं चाहते स्कूल

    गौरतलब है कि एक सर्वे के अनुसार महाराष्ट्र में 62% अभिभावक आज यानी 24 जनवरी से अपने बच्चों को स्कूल भेजने में सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे हैं। दरल ऑनलाइन मंच ‘लोकल सर्किल्स’ द्वारा राज्य के श्रेणी-एक, श्रेणी-दो/तीन और श्रेणी-चार के शहरों में किए गए सर्वे में निष्कर्ष सामने आया है। सर्वे में करीब 4,976 लोगों ने अपने विचार रखे, जिनमें 67 फीसदी पुरुष और 33 फीसदी महिलाएं शामिल रही थीं।

    फिलहाल महाराष्ट्र में बीते 24 घंटों में कोरोना के 40,805 नए मामले सामने आए, जबकि 44 मरीजों की मौत हुई है। जिसके बाद संक्रमितों की कुल संख्या 75,07,225 और मृतकों की संख्या 1,42,115 हो गई है। इसके अलावा 27,377 लोग कोरोना मुक्त होने के बाद ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 70,67,955 हो गई है।  वर्तमान में कुल 2,93,305 एक्टिव मरीज है और सभी का इलाज चल रहा है। वहीं मुंबई में बीते दो हफ्तों में कोरोना के मामलों में करीब 90% गिरावट आई है। शहर में बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस संक्रमण के 2,550 मामले सामने आए हैं। जबकि 13 संक्रमितों की इससे मौत भी हुई है।