Skill development begins in IIS Mumbai

  • संस्थान में पढ़ाए जाएंगे 2 नए कोर्सेस

मुंबई. युवाओं में स्किल डेवलपमेंट (Skill Development) को लेकर सरकार काफी जोर दे रही है. इसी कड़ी में स्किल डेवलपमेंट मिनिस्ट्री (Skill development ministry)  और टाटा (Tata) ने मुंबई में इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल (IIS) की स्थापना की थी. उक्त संस्थान ने अब युवाओं के कौशल विकास की शुरुआत कर दी है. आज संस्थान में 2 नए कोर्सेस की शुरुआत की गई है.

स्किल इंडिया मिशन के तहत कौशल विकास और रोजगार निर्माण के क्षेत्र में भारत (India) को आगे बढ़ाने और निजी क्षेत्र (Private Sector) की भागीदारी के माध्यम से स्किल इंडिया कार्यक्रम को एक नई गति प्रदान करने के उद्देश्य से टाटा इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल्स का मुंबई में प्रशिक्षण का पहला बैच कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्री डॉ. महेंद्रनाथ पाण्डेय (Dr. Mahendranath Pandey) ने वर्चुअल माध्यम से लॉन्च किया.  इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल्स की स्थापना के लिए 11 नवंबर, 2020 को कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय और टाटा एजुकेशनल एंड डेवलपमेंट ट्रस्ट के बीच औपचारिक समझौते पर हस्ताक्षर किए जा चुके हैं. 

पहले 100 विद्यार्थियों को 75% स्कॉलरशिप प्रदान की जाएगी

टाटा इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ स्किल्स में पहला बैच फैक्टरी ऑटोमेशन में दो जॉब रोल में शुरू किया है, जिसमे  प्रशिक्षु के प्रीक्वालिफिकेशन प्रोफाइल के आधार पर, 1 से 4 सप्ताह तक की अवधि के साथ प्रशिक्षण शुरू किया जायेगा. इस अवसर पर महाराष्ट्र के कौशल विकास मंत्री नवाब मलिक और टाटा आईआईएस के निदेशक गिरीश कृष्णमूर्ति भी उपस्थित थे. पहले बैच में फैक्टरी ऑटोमेशन और डिजिटल (स्मार्ट) विनिर्माण में 2 अल्पकालिक पाठ्यक्रम शामिल होंगे. पहले 100 विद्यार्थियों को प्रोत्साहन के रूप में 75% स्कॉलरशिप प्रदान की जाएगी.

आईआईएस भविष्य के लिए तैयार

डॉ. महेंद्र नाथ पाण्डेय ने कहा  कि आज आईआईएस मुंबई के अपने पहले सेट के लॉन्च के साथ, मैं गर्व के साथ कह सकता हूं कि हम अपने प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी के भारत को ‘विश्व की कौशल राजधानी’ बनाने के विज़न को प्राप्त करने के बहुत करीब आ रहे हैं. देश में शिक्षा के अन्य प्रमुख केंद्रों के नक्शेकदम पर चलते हुए, IIS मुंबई भविष्य के लिए तैयार है.