File Photo
File Photo

    नागपुर. कोरोना की तीसरी लहर की संभावना और जो कोरोना बाधित हो कर स्वस्थ हुए हैं व पोस्ट कोविड की परेशानियों से जूझ रहे हैं उनके स्वास्थ्य का ध्यान रखते हुए जिलाधिकारी ने सरकार के निर्देश पर दीवाली के गाइडलाइन जारी की है. उन्होंने अपील की है कि 2 से 6 नवंबर तक मनाए जाने वाले दीवाली उत्सव के दौरान पटाखे फोड़ना टालें क्योंकि ध्वनि व वायु प्रदूषण से नागरिकों और भी तकलीफ हो सकती है.

    उन्होंने कहा कि दीवाली की आतिशबाजी के कुछ दिनों बाद तक वातावरण में उसका असर होता है. इसलिए नागरिक दीपों का यह उत्सव अपने घरों में दीप जलाकर मनाएं. उन्होंने इस दौरान बाजारों में, दूकानों में और मंदिरों में भीड़ नहीं करने की अपील भी की है. बुजुर्गों और बच्चों को भीड़ भरे स्थानों पर जाने से बचाने को भी कहा है.

    नियमों का कड़ाई से पालन करें

    जिलाधिकारी ने कहा कि कोविड की तीव्रता भले ही कम हो गई हो लेकिन अभी भी तीसरी लहर की आशंका बताई जा रही है. इसलिए भीड़ भरी जगहों पर जाने से बचें. दूकानों में या अन्य स्थानों पर भी सोशल डिस्टेंसिंग, सैनिटाइजर, मास्क आदि के नियमों का कड़ाई से पालन करें. उन्होंने अपील की है कि दीवाली उत्सव के दौरान अपने-अपने घरों में ही त्योहार मनाएं, अन्य लोगों के साथ एकत्र होकर भीड़ न करें.