Disqualification Case Update, Devdatt Kamat questioned Dilip Lande, Complete Detail, Dilip Lande, Devadatt Kamat, Disqualification Case

Loading

नवभारत न्यूज़ नेटवर्क
नागपुर: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे समेत 16 विधायकों की अयोग्यता पर शुक्रवार को भी विधानसभा अध्यक्ष राहुल नार्वेकर के सामने सुनवाई हुई। इस सुनवाई के दौरान पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे गुट के वकीलों ने एक अटेंडेंस शीट दाखिल की। यह जानकारी 21 जून 2022 को तत्कालीन सीएम उद्धव ठाकरे के सीएम आवास वर्षा बंगले में आयोजित बैठक से जुड़ी है। इस अटेंडेंस शीट पर शिंदे गुट के करीब 23 विधायकों के हस्ताक्षर हैं। खास बात यह है कि मीटिंग में एकनाथ शिंदे को विधायक दल के नेता पद से हटाने का प्रस्ताव रखा गया, जिसे इन विधायकों ने मंजूरी दी थी। कामत ने कहा इस मीटिंग में कथित रूप से मौजूद शिंदे गुट के विधायक दिलीप लांडे भी मौजूद थे। हालांकि लांडे ने कहा कि एकनाथ शिंदे को विधानमंडल समूह नेता पद से हटाने के प्रस्ताव पर उन्होंने हस्ताक्षर नहीं किए थे। बल्कि मेरा फर्जी हस्ताक्षर किया गया। 

क्या बीजेपी ने उठाया होटल का खर्च
ठाकरे गुट के वकील देवदत्त कामत ने दिलीप लांडे से पूछा कि क्या बीजेपी ने गुवाहाटी में शिंदे गुट के विधायकों के होटल में ठहरने का खर्च उठाया था। हालांकि शिंदे गुट के विधायक ने इसे निजी जानकारी बता कर अपना बचाव करने की कोशिश की। 

 
सवालों और जवाबों का दौर
देवदत्त कामत (ठाकरे गुट के वकील): क्या शिवसेना विधायक राजन साल्वी 3 जुलाई, 2022 को विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए शिवसेना से उम्मीदवार थे?
दिलीप लांडे:(शिंदे गुट के विधायक) राहुल नार्वेकर विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए शिवसेना के उम्मीदवार थे। 
कामत: 2 जुलाई 2022 को क्या शिवसेना के विधायक मौजूद  थे?
दिलीप लांडे: चूंकि मैं नया हूं इसलिए सभी सदस्यों को नहीं जानता।
कामत: आप यह जवाब इसलिए नहीं दे रहे हैं क्योंकि राजन साल्वी विधानसभा अध्यक्ष पद के उम्मीदवार थे?
लांडे: चूंकि मैं नया हूं इसलिए मैं सभी सदस्यों को नहीं जानता। 
कामत: क्या इसका मतलब यह है कि चूंकि आप नए थे, इसलिए आपको शिवसेना पार्टी के सभी सदस्यों के नाम नहीं पता थे? क्या ये कहना सही होगा?
लांडे: यह सही है। 
कामत: तो क्या 3 जुलाई 2022 को अध्यक्ष पद के चुनाव में आपने बीजेपी के राहुल नार्वेकर को वोट दिया था?
(शिंदे समूह के वकीलों ने इस सवाल पर आपत्ति जताई। मतदान एक विशेषाधिकार है)
कामत: अयोग्यता याचिका संख्या 19 में जवाब देते हुए आपने कहा है कि आपने अध्यक्ष पद के चुनाव में राहुल नार्वेकर को 164 वोटों से चुना। क्या इसका मतलब यह है कि आपने अपने समूह द्वारा जारी व्हिप के अनुसार राहुल नार्वेकर को वोट दिया। क्या राहुल नार्वेकर को वोट देने के लिए कोई लिखित व्हिप था?
लांडे: याद नहीं आ रहा
कामत: क्या शिवसेना ने राहुल नार्वेकर को वोट देने और राजन साल्वी के खिलाफ वोट करने के लिए कोई व्हिप नहीं निकाला था? क्या यह सही है?
लांडे: मैंने पहले ही कहा था की याद नहीं। 
कामत: क्या आप यह ईमेल पता rajgadbank9@mail.com जानते हैं?
लांडे: हां मेरा है, लेकिन यह मेरे निर्वाचन क्षेत्र का है। 
कामत: क्या आपको सुनील प्रभु द्वारा 2 जुलाई को दोपहर 2:42 बजे एक ही ईमेल आईडी पर भेजे गए 2 ऑर्डर प्राप्त हुए हैं?
लांडे : मैं मुंबई में नहीं था, मुझे नहीं पता। मेरे भाई द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक मेल विजय जोशी के नाम से भेजा गया था। 
कामत: आपने 3 जुलाई 2022 को विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव के लिए चीफ प्रतोद सुनील प्रभु द्वारा भेजे गए व्हिप का उल्लंघन किया है। अतः आप अयोग्यता की कार्यवाही के पात्र हैं। क्या ये गलत है या सही?
लांडे: सुनील प्रभु ने मुझे कोई व्हिप नहीं भेजा। 
कामत: 4 जुलाई 2022 को भरत गोगावले द्वारा जारी कथित पार्टी आदेश कैसे प्राप्त हुआ?
लांडे: मुझे सौंपा गया था। 
कामत: कथित पार्टी आदेश आपके हाथ में कब आया?
लांडे: मुझे समय याद नहीं है शायद 4 जुलाई की तारीख थी।  
कामत: क्या कथित व्हिप आपको सौंपे जाने के बाद आपने उसे स्वीकार किया था?
लांडे: याद नहीं आ रहा। 
कामत: क्या आपने 4 जुलाई, 2022 को विश्वास मत में एकनाथ शिंदे को वोट दिया था जो भाजपा पार्टी के समर्थन से सरकार बना रहे थे? क्या यह सही है?
लांडे: यह सही है। 
कामत: क्या आपने 2 जुलाई 2022 को सुनील प्रभु द्वारा दिए गए पार्टी आदेश का उल्लंघन करके खुद को अयोग्य घोषित कर दिया है?
लांडे: मुझे सुनील प्रभु द्वारा भेजा गया कोई व्हिप नहीं मिला है। 
कामत: क्या आप 20 जून और 21 जून, 2022 को एकनाथ शिंदे से संपर्क में थे ?
लांडे: मैं पिछले 25 वर्षों से एकनाथ शिंदे के संपर्क में हूं। 
कामत: तो आप 20 और 21 जून 2022 को एकनाथ शिंदे के संपर्क में आए?
लांडे: मैं उनसे 20 जून को मिला था। जब मतदान हो रहा था लेकिन 21 जून को उनसे मुलाकात नहीं हुई। 
कामत: 20 जून 2022 के बाद 24 जून 2022 तक आपका एकनाथ शिंदे से कोई संपर्क नहीं हुआ? क्या यह सही है?
लांडे: यह सही है। 
कामत: क्या आप 20 से 30 जून 2022 के बीच मुंबई में थे?
लांडे: याद नहीं आ रहा लेकीन मैं 20, 21 और 22 को मुंबई में था। 
कामत: क्या आपने 22 जून से 30 जून 2022 के बीच महाराष्ट्र से बाहर यात्रा की है?
लांडे: हां। 
कामत: आप 22 जून से 20 जून 2022 के बीच महाराष्ट्र से बाहर कहां गए? क्या आप मुझे यह बता सकते हैं?
लांडे : यह मेरी निजी जानकारी है, मैं इसे साझा नहीं कर सकता। मैं कहीं भी आ-जा सकता हूं। 
कामत- क्या आप 22 जून से 30 जून 2022 के बीच सूरत और गुवाहाटी गए थे ?
लांडे: मैंने पहले ही बताया था कि यह मेरी निजी जानकारी है। यह मेरा अधिकार है कि मैं जहां चाहूं घूम सकता हूं। 
कामत: क्या आपने 21 जून और 22 जून 2022 को अखबारों और न्यूज चैनलों को इंटरव्यू दिया था? जिसमें आप ने कहा कि मैं उद्धव ठाकरे के साथ हैं और एकनाथ शिंदे का समर्थन नहीं करते?
लांडे: याद नहीं आ रहा। 
कामत: क्या आप सूरत और गुवाहाटी या महाराष्ट्र के बाहर जिन होटलों में ठहरते हैं, उनका किराया भाजपा पार्टी ने दिया? क्या यह सच है?
लांडे: मैं खुद गया था, मैं कहां रुका और कहां गया, इसकी जानकारी मैं किसी को नहीं दे सकता।  
कामत: क्या आपने 22 से 30 जून के बीच निजी चार्टर्ड विमान से महाराष्ट्र से बाहर यात्रा की?
लांडे: यह मेरे निजी जीवन की जानकारी है. मैं नहीं कह सकता कि मैं रिक्शा चला कर गया या बैलगाड़ी से।