Covid-19

    नाशिक : कोरोना (Corona) की तीसरी लहर (Third Wave) शुरू हो गई है, जिसका असर पहली और दूसरी लहर से फिलहाल कम है, लेकिन अगले सप्ताह से शुरू होने वाले शादी समारोह (Wedding Ceremony) को तीसरी लहर के चलते ब्रेक लगने की संभावना व्यक्त की जा रही है। अर्थात राज्य सरकार ने शादी समारोह के लिए नियमावली बनाई है। इसके तहत 50 बारातीयों को ही शादी समारोह में शामिल होने की बात स्पष्ट की गई है। कुल मिलाकर कोरोना और ओमीक्रोन के चलते शादी समारोह को ब्रेक लगने वाला है।

    पिछले कुछ दिनों से संक्रमितों की संख्या दिन ब दिन बढ़ रही है। सावधानी के रूप में सरकार ने स्कूल, महाविद्यालय को 15 फरवरी तक बंद कर दिया है। साथ ही संचारबंदी और जमावबंदी भी लागू की गई। एक बार फिर लॉकडाउन होगा या नहीं? इस बारे में तर्कवितर्क लगाए जा रहे है। ऐसे में 20 जनवरी से शुरू होने वाले शादी समारोह को एक बार फिर ब्रेक लगने की संभावना व्यक्त की जा रही है। फिलहाल 50 बारातीयों की मौजूदगी में शादी समारोह के लिए अनुमति दी गई है। इस माह में 20, 22, 23, 27, 30 ऐसे 5 शादी के मुहूर्त है। फरवरी माह में 5, 6, 7, 10, 17 ऐसे 6 मुहूर्त है।

    मार्च माह में 25, 26, 27, 28 ऐसे 4 मुहूर्त है। कोरोना काल में पिछले दो साल में कोरोना संकट के चलते धूमधाम से शादी नहीं हुई। आज भी ऐसी ही स्थिति निर्माण न हो इसलिए सरकार ने नियमावली घोषित कर 50 बारातीयों को ही शादी समारोह में मौजूद रहने की अनुमति दी है। दूसरी ओर पुरोहित, मंगल कार्यालय, केटर्स, बैंड, घोडेवाला, शादी निमंत्रण, कपड़ा विक्रेता ऐसे छोटे-बड़े व्यावसायिकों पर इस स्थिति का विपरित परिणाम होगा।