In this city of Maharashtra, if the Divyangs get married among themselves, the administration will give help of 2 lakh rupees, the Mayor announced

    पिंपरी : वैश्विक दिव्यांग दिवस (Global Disabled Day) के उपलक्ष्य में पिंपरी चिंचवड़ महानगरपालिका (Pimpri Chinchwad Municipal Corporation) की ओर से एक बहुत ही महत्वपूर्ण घोषणा की गई है। शहर के दिव्यांग ने दिव्यांग व्यक्ति से विवाह किया तो उस नवदंपति को महानगरपालिका की ओर से दो लाख रुपए की वित्तीय मदद दी जाएगी। चिंचवड के प्रा. रामकृष्ण मोरे प्रेक्षागृह में महानगरपालिका की ओर से आयोजित दिव्यांग दिवस के कार्यक्रम का उदघाटन करने के बाद महापौर ऊषा ढोरे (Mayor Usha Dhore) ने इसकी आधिकारिक घोषणा (Official Announcement) की। 

    इस मौके पर पद्मश्री गिरीश प्रभुणे, उपमहापौर नानी उर्फ हिराबाई घुले, सत्तारुढ पक्षनेता नामदेव ढाके, कमिश्नर राजेश पाटील, महिला और बालकल्याण समिती सभापती सविता खुले, शहर सुधारणा सभापती अनुराधा गोरखे, जैव विविधता और प्रबंधन समिती अध्यक्षा उषा मुंढे, ब प्रभाग अध्यक्ष सुरेश भोईर, नगरसदस्या शर्मिला बाबर, निर्मला गायकवाड, कमल घोलप, ज्येष्ठ सामाजिक कार्यकर्ते मानव कांबले, उप आयुक्त अजय चारठाणकर, सहायक आयुक्त अण्णा बोदडे, श्रीनिवास दांगट, जनसंपर्क विभाग के प्रफुल्ल पुराणिक, दिव्यांग समेत विविध संगठनों के पदाधिकारी और प्रतिनिधि उपस्थित थे।

    महापौर माई ढोरे ने विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर प्रतिभागियों और शहर के विकलांग लोगों को भी बधाई देते हुए अपील की कि विकलांग व्यक्तियों को मुख्य धारा में लाने के लिए मनपा विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से उन्हें सशक्त बनाने का प्रयास कर रहा है और जरूरतमंदों को इन योजनाओं का लाभ उठाना चाहिए। उन्होंने कहा कि महानगरपालिका शहर के हर हिस्से को सक्षम बनाने के लिए प्रतिबद्ध है और विकलांग व्यक्तियों के लिए अधिकतम योजनाओं को लागू करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है। महापौर ने शहरी विकास विभाग द्वारा विकलांगों के लिए तैयार किए गए एप का विमोचन किया।

    सभी विकलांग लोगों का सर्वेक्षण किया जाएगा

    इसके बाद ढोरे द्वारा पद्मश्री गिरीश प्रभुने, दीक्षा डिंडे, विभिन्न सामाजिक संगठनों के दिव्यांग प्रतिनिधियों, दिव्यांग नागरिकों और छात्रों को सम्मानित किया गया। कमिश्नर राजेश पाटिल ने विकलांगों के लिए चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सभी प्रकार की योजनाओं की जानकारी प्राप्त करने के लिए विकलांगों के लिए एक अलग एप बनाया गया है और इस एप में विकलांगों द्वारा जमा किए गए आवेदनों की जानकारी उपलब्ध होगी। उन्होंने यह भी कहा कि इस एप के माध्यम से महानगरपालिका क्षेत्र के सभी विकलांग लोगों का सर्वेक्षण किया जाएगा।