ABVP pressure, university withdraws, refuses to give vice-chancellor speech in anti-naxal program

    वर्धा. नागपुर विवि का परीक्षा संबंधी नियोजन इस वर्ष भी गड़बड़ा गया है. विवि ने 13 मई से प्रात्यक्षिक परीक्षा लेने के निर्देश दिये हैं. जिससे प्राध्यापकों को ग्रीष्मकालीन अवकाश के दौरान परीक्षा का आयोजन करना होगा. विवि के इस फैसले से प्राध्यापकों में नाराजगी बनी हुई है.

    नागपुर विवि ने ग्रीष्मकालीन परीक्षा आनलाइन लेने के संदर्भ में निर्णय लिया था. जिसके अनुसार प्रैक्टिकल परीक्षा की तैयारियां भी शुरू कर दी थी. 22 अप्रैल से कालेज को प्रैक्टिकल परीक्षा लेनी थी. किंतु उच्च शिक्षामंत्री उदय सावंत व अन्य विवि के कुलपति ने आफलाइन परीक्षा लेने के संदर्भ में निर्णय लिया.

    प्रैक्टिकल परीक्षा का परिपत्रक जारी

    सरकार व अन्य विवि के निर्णय के कारण नागपुर विवि को अपना निर्णय स्थगित करना पड़ा. प्रैक्टिकल परीक्षा के संदर्भ में जारी किया हुआ पत्र विवि ने रद्द कर नई तिथि घोषित करने के संदर्भ में कालेजों को अवगत कराया था. 10 मई को विवि ने पत्र निकालकर अंतिम वर्ष की प्रैक्टिकल परीक्षा 13 मई से 31 मई तक तथा अन्य सत्र की प्रैक्टिकल परीक्षा 30 मई से 10 जून तक लेने के संदर्भ परिपत्रक जारी किया है.

    9 से ग्रीष्मकालीन छुट्टियां

    विवि के कैलेंडर नुसार प्राध्यापकों को 9 मई से ग्रीष्मकालीन छुट्टियां लगी है. ऐसे में प्राध्यापकों को अवकाश में छात्रों का प्रैक्टिकल लेने की नौबत आयी है. परिणामवश प्राध्यापकों में नाराजगी का आलम है. कोरोना के कारण पहले ही छात्र कालेज से नदारद है. ऐसे में छात्रों को बुलाकर परीक्षा लेना प्राध्यापकों के लिये चुनौती बन गई है.

    हो सकती है फिक्सिंग

    विवि के पत्र के अनुसार प्रात्यक्षिक परीक्षा के लिये एक्सटरनल अन्य कालेज का लेना है. वास्तविकता में इसके पूर्व में यह नियुक्ति विवि व्दारा की जाती थी. परंतु इस बार कालेज पर यह जिम्मेदारी सौंपी जाने के कारण फिक्सिंग होने की आशंका जताई जा रही है.