सार्वत्रिक चुनाव के लिए वार्ड निर्माण कार्यक्रम जारी; 24 मई को दी जाएगी अंतिम मंजूरी, 172 ग्राम पंचायतों में छिड़ी सियासत

    यवतमाल. जिले में जनवरी 2021 से दिसंबर 2022 तक की अवधि में समाप्त होने वाली 172 ग्राम पंचायतों के आम चुनाव के लिए वार्ड गठन का कार्यक्रम जारी हुआ है. जिले के ग्रामीण इलाकों में सियासी माहौल गर्मा गया है.

    जिले की 172 ग्राम पंचायतों का कार्यकाल जनवरी 2021 से दिसंबर 2022 तक समाप्त हो रहा है. आयोग द्वारा 29 नवंबर 2019 को दिए गए वार्ड गठन एवं आरक्षण कार्यक्रम में ग्राम पंचायतों ने चुनाव कार्यक्रम को निरस्त कर दिया है. साथ ही नवस्थापित ग्राम पंचायतों के आम चुनाव के लिए 27 जनवरी 2022 को वार्ड की सीमा तय करने के कार्यक्रम के सुनवाई चरण से कार्यक्रम की घोषणा कर दी गयी है.

    प्राप्त आपत्तियों एवं सुझावों को सुनने के बाद 19 मई 2022 को अंतिम निर्णय के लिए प्रस्ताव जिलाधिकारी को प्रस्तुत करने, उपविभागीय अधिकारियों से प्राप्त प्रस्तावों की जांच के बाद जिलाधिकारी 24 मई को वार्ड ढांचे को अंतिम मंजूरी देंगे. आयोग ने जिलाधिकारी द्वारा स्वीकृत अंतिम वार्ड रचना 27 मई को प्रकाशित करने का आदेश दिया है.

    जिला प्रशासन में वार्ड गठन का आदेश आते ही ग्राम पंचायत स्तर पर सियासी माहौल गरमा गया है. जिले की 172 ग्राम पंचायतों के लिए सार्वत्रिक चुनाव होंगे. इस पृष्ठभूमि में, राजनीतिक दल आंदोलन को तेज करते दिख रहे हैं.

    2 मई का आदेश रद्द

    ग्राम पंचायत के सार्वत्रिक चुनाव समाप्त होने की पृष्ठभूमि में पहले 2 मई को वार्ड गठन कार्यक्रम का आदेश दिया गया था. हालांकि, आदेश रद्द कर दिया गया था और 6 मई को एक नया आदेश जारी किया गया था. इस आदेश के तहत 13 मई से सुनवाई की प्रक्रिया शुरू होगी. लेकिन 6 मई के आदेश के बाद भी प्रशासन में अधिकारियों में असमंजस की स्थिति बनी हुई है. लेकिन यह स्पष्ट किया गया है कि यह आयोजन अंतिम है.