kashmir

    रांची. झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची (Ranchi) में गर्म कपड़े बेचने का काम करने वाले चार कश्मीरी युवकों ने कुछ स्थानीय लोगों पर उनकी पिटाई करने और जबरन ‘जय श्रीराम’ (Jai Shri Ram) और ‘पाकिस्तान मुर्दाबाद’ के नारे लगवाने का शनिवार को आरोप लगाया जिसके बाद पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को हिरासत में लिया।

    पुलिस ने रविवार को यह जानकारी दी। रांची के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुरेन्द्र कुमार झा ने इस घटना के बारे में पूछे जाने पर बताया कि शनिवार को कश्मीरी कारोबारियों ने पुलिस में शिकायत दर्ज करायी थी कि उनके साथ कुछ स्थानीय लोगों ने मारपीट की जिसके बाद पुलिस ने बीती रात तीन आरोपियों को हिरासत में लिया और उनसे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने कहा कि इस मामले में जो भी दोषी पाया जायेगा उसे बख्शा नहीं जायेगा। इससे पूर्व इस घटना की सूचना पर मुख्यमंत्री ने स्वयं पीड़ित युवकों के वीडियो को ट्वीट करते हुए आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिये।

    Courtsey: Junaid Bhat Photographer

    आरोप के अनुसार कुछ स्थानीय लोगों ने मिलकर इलाके में रह रहे कश्मीरी युवकों के साथ पहले मारपीट की और फिर उनसे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगवाए। पीड़ित युवकों ने कहा कि ठंड के मौसम में वे रांची आकर काम किया करते हैं। पिछले दिनों उन्हें कुछ लोगों ने रोका और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने को कहा। वहीं, ऐसा नहीं करने पर उनके साथ मारपीट भी की गई है। बाद में कश्मीरी युवकों ने यह भी आरोप लगाया कि उन्हें ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने के लिए भी मजबूर किया गया।

    पुलिस उपाधीक्षक प्रभात रंजन ने कहा कि थाना स्तर पर सभी कश्मीरी युवकों की सूची बनायी जाएगी फिर उसे संबंधित थाना प्रभारी को दिया जाएगा। प्रभात रंजन ने बताया कि शहर में कुछ ऐसे असामाजिक तत्व हैं जो कानून व्यवस्था को चुनौती देते हैं। लेकिन पुलिस और प्रशासन की टीम ऐसे असामाजिक तत्वों से निपटने में पूरी तरह से सक्षम है। इस मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। आरोपियों की तलाश की जा रही है।