(प्रतीकात्मक तस्वीर)
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

    लखनऊ: प्रदेशवासियों को सुरक्षा का टीका देने के लिए प्रतिबद्ध योगी सरकार (Yogi Government) उचित रणनीति के तहत टीकाकरण (Vaccination) को रफ्तार दे रही है। टीकाकरण की दूसरी डोज की रफ्तार बढ़ाने के लिए टीकाकरण की व्यवस्थाएं फिक्स्ड बूथ क्लस्टर अप्रोच, मेगा वैक्सीनेशन डे का आयोजन करने के साथ ही योगी सरकार ने टीकाकरण की रफ्तार को बढ़ाने के लिए प्रतिदिन प्रदेश में 20 लाख टीकाकरण करने का लक्ष्‍य निर्धारित किया है। जिसके सकारात्‍मक परिणाम यूपी (UP) में देखने को मिल रहे हैं। यूपी में दोनों डोज पाने वालों की संख्‍या अब 6 करोड़ पार हो गई है, वहीं 11 करोड़ 93 लाख लोगों को पहली डोज दी जा चुकी है। अब तक 17 करोड़ 94 लाख से अधिक टीके की डोज देकर यूपी देश के दूसरे प्रदेशों से कहीं आगे है।

    कोरोना के पहली और दूसरी लहर में निगरानी समितियों ने गांवों और शहरों में संक्रमण पर लगाम लगाने का कार्य किया। ऐसे में नए वेरिएंट को ध्‍यान में रखते हुए एक बार फिर से इन निगरानी समितियों को कमान सौंपी गई है। जिसके चलते गांवों में टीकाकरण में तेजी आई है। कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन के संभावित खतरे को देखते हुए प्रदेश में सर्तकता बरती जा रही है। सरकारी और निजी अस्‍पतालों में बेड, ऑक्‍सीजन, वेंटिलेटर की व्‍यवस्‍था को सुनिश्चि‍त करने के आदेश सीएम ने दिए हैं। इतना ही नहीं जीनोम परीक्षण को बढ़ाने के निर्देश भी दिए हैं।

    यूपी में 24 लोगों ने दी कोरोना को मात

    सर्वाधिक टेस्‍ट और टीकाकरण करने वाले प्रदेश में बीते 24 घंटों में हुई 1 लाख 80 हजार से अधिक टेस्टिंग में महज 20 संक्रमण के मामलों की पुष्टि हुई। इस दौरान 24 लोगों ने संक्रमण को मात दी। प्रदेश में सक्रिय केसों की संख्‍या 151 है, वहीं रिकवरी रेट 98.7 प्रतिशत है। कम समय में तेजी से टीकाकरण करने वाले यूपी मे अब तक 80.76 प्रतिशत पात्र लोगों ने पहली और 40.52 प्रतिशत पात्र लोगों ने दूसरी डोज का टीका कवर प्राप्‍त कर लिया है।