Highest improvement in jail administration in Tamil Nadu-Karnataka, least in UP: Report
File Photo

    लंदन: ब्रिटेन में भारतीय मूल के चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA) को फर्जीवाड़ा और धन शोधन के मामले में साढ़े पांच साल कैद की सजा सुनाई गई है। सीए को निर्बल पीड़ित का शोषण करके उसकी 3,31,858 पाउंड मूल्य की धन-संपदा लेने का दोषी पाया गया। 

    73 वर्षीय सुखविंदर सिंह को गुरुवार को उत्तर-पूर्व इंग्लैंड में यॉर्क क्राउन अदालत में धोखाधड़ी के चार मामलों और धन शोधन के एक मामले में यह सजा सुनाई गई थी। अदालत ने पाया कि सिंह ने पीड़ित, जिसकी पहचान केवल ‘ए’ के ​​रूप में हुई है और वह सामाजिक और शारीरिक रूप से अक्षम है, को निशाना बनाकर ठगा। 

    क्राउन प्रॉसिक्यूशन सर्विस (सीपीएस) के एक वरिष्ठ क्राउन अभियोजक एंड्रिया थॉमस ने कहा, ‘‘सिंह ने काफी अक्षम व्यक्ति के समक्ष खुद को एक भरोसेमंद दोस्त और पेशेवर वित्तीय सलाहकार के रूप में पेश किया। लेकिन अपने व्यक्तिगत लाभ के लिए धन और संपत्ति के हस्तांतरण संबंधी उनका कृत्य विश्वास का एक बड़ा उल्लंघन था। वह पीड़ित का समर्थन करने और उसकी सुरक्षा करने में विफल रहे।”

    नॉर्थ यॉर्कशायर पुलिस बल की एक जांच में पता चला कि जब ‘ए’ के माता-पिता की मौत हुई, तो सिंह ने वित्तीय मामलों को सुलझाने की पेशकश की थी।  हालांकि, सीए ने इसके बजाय पीड़ित के बैंक खाते से 34,000 पाउंड लिए और सितंबर 2016 में इसका भुगतान अपने खाते में कर दिया। उसी महीने, सिंह ने हैरोगेट शहर में ‘ए’ के घर का स्वामित्व अपने स्वयं की कंपनी को हस्तांतरित कर दिया, जिसका मूल्य लगभग 2,75,000 पाउंड था। (एजेंसी)