Syria Air Strike : US officials suspect Iran may have had hand in drone attack on US Army base in Syria
Representative Photo

    वॉशिंगटन: अमेरिका (America) ने इराक (Iraq) और सीरिया (Syria) के बीच सीमा के निकट ‘‘ईरान समर्थित मिलिशिया समूहों (Militia Groups) द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले ठिकानों” को निशाना बनाकर रविवार को हवाई हमले किए। पेंटागन के प्रेस सचिव जॉन किर्बी ने बताया कि ये मिलिशिया समूह इराक में अमेरिकी बलों के खिलाफ मानवरहित यान से हमले करने के लिए इन ठिकानों का इस्तेमाल कर रहे थे।

    किर्बी ने बताया कि अमेरिकी सेना ने सीरिया में दो और इराक में एक यानी कुल तीन ठिकानों पर हमले किए। इन ठिकानों से मिलिशिया समूह अपने अभियान चलाते थे और यहां हथियार भी रखते थे। उन्होंने इन हमलों को ‘‘रक्षात्मक” करार देते हुए कहा कि ये हमले ‘‘इराक में अमेरिकी हितों को निशाना बनाकर किए गए ईरान समर्थित समूहों के जारी हमलों” के जवाब में किए गए।

    किर्बी ने कहा, ‘‘अमेरिका ने स्थिति बिगड़ने के जोखिम को कम करने के लिए और हमले रोकने की खातिर एक स्पष्ट संदेश भेजने के लिए आवश्यक, उचित और सोच-समझकर कार्रवाई की।”