Major accident averted in Bengaluru, two planes miss collision mid air, DGCA to investigate
Representational Photo

    नई दिल्ली: विमानन नियामक (Aviation Regulator) डीजीसीए (DGCA) के वरिष्ठ अधिकारियों ने बुधवार को कहा कि, नौ जनवरी की सुबह बेंगलुरू हवाई अड्डे (Bengaluru Airport) पर उड़ान भरने के तुरंत बाद इंडिगो (Indigo) के दो विमानों (Flights) के बीच हवा में टक्कर टल गई थी। उन्होंने बताया कि घटना को किसी लॉगबुक में दर्ज नहीं किया गया था और न ही भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण (एएआई) ने इसकी सूचना दी थी।

    इस बीच, नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) प्रमुख अरुण कुमार ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि विमानन नियामक घटना की जांच कर रहा है और दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगा। इंडिगो और एएआई ने इस मामले पर बयान के लिए ‘पीटीआई-भाषा’ के अनुरोध का जवाब नहीं दिया।

    डीजीसीए के अधिकारियों ने कहा कि इंडिगो के दो विमान – 6ई455 (बेंगलुरु से कोलकाता) और 6ई246 (बेंगलुरु से भुवनेश्वर) – बेंगलुरु हवाई अड्डे पर ‘अलगाव के उल्लंघन’ में शामिल थे। अलगाव का उल्लंघन तब होता है जब दो विमान किसी हवाई क्षेत्र में न्यूनतम अनिवार्य ऊर्ध्वाधर या क्षैतिज दूरी को पार कर लेते हैं।

    अधिकारियों ने बताया कि इन दोनों विमान ने नौ जनवरी की सुबह करीब पांच मिनट के अंतराल में बेंगलुरू हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी। एक अधिकारी ने कहा, ‘‘प्रस्थान के बाद दोनों विमान एक दूसरे की ओर बढ़ रहे थे। ‘अप्रोच रडार कंट्रोलर’ ने डायवर्जिंग हेडिंग का संकेत दिया जिससे दोनों विमानों के बीच हवा में टक्कर टल गई।”