char-dham

    देहरादून. एक बड़ी खबर के अनुसार उत्तराखंड (Uttrakhand) के मुख्यमंत्री पुष्कर धामी (CM Pushkar Dhaami) ने राज्य में आगामी शनिवार 18 सितंबर से चार धाम यात्रा (Char Dham Yatra) और हेमुकंड साहिब यात्रा शुरू करने की बात कही है।  इसके साथ ही उन्होंने यह दावा भी किया कि सरकार की तरफ से यात्रा को लेकर सभी जरुरी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। 

    गौरतलब है कि हाईकोर्ट ने बीते गुरुवार को रोक हटाते हुए इस यात्रा के लिए जरुरी मंज़ूरी दी थी।  इस यात्रा को जिन शर्तों के साथ मंज़ूरी दी गई है, उनके अनुसार अब इस यात्रा पर सीमित यात्री ही जा सकेंगे।  गौरतलब है कि करीब दो महीने का समय इस यात्रा के लिए बचा है।  

    इस बाबत ट्वीट करते हुए CM धामी ने कहा कि, “चारधाम यात्रा का उत्तराखण्ड के लिए सांस्कृतिक और आर्थिक महत्व है।  प्रत्येक वर्ष देश-विदेश के लाखों लोगों को इस यात्रा की प्रतीक्षा रहती है।  प्रदेश सरकार कोरोना के सभी नियमों का पालन करते हुए सुरक्षित और सुगम चार धाम यात्रा हेतु प्रतिबद्ध है। ” इसके साथ ही CM धामी ने अपने ट्वीट में उत्तराखण्ड में 18 सितम्बर से यात्रा की शुरुआत होने के उपलक्ष्य में  सभी भक्तों एवं श्रद्धालुओं का राज्य सरकार की ओर से स्वागत भी किया। 

    आज CM धामी ने अपने जन्मदिन के मौके को चार धाम यात्रा के साथ जोड़ते हुए लिखा कि, “आज चारधाम तीर्थ पुरोहितों ने भेंट कर जन्मदिन की बधाई देते हुए चारधाम यात्रा पुनः शुरू किये जाने के सन्दर्भ में प्रदेश सरकार के प्रयासों की सराहना की।  मैं आज अपनी ओर से चारधाम पुरोहितों एवं सभी श्रद्धालुओं के प्रति आभार प्रकट करता हूं। ” इससे पहले धामी ने हाई कोर्ट के फैसले पर लिखा, “जन भावनाओं के अनुरूप माननीय उच्च न्यायालय द्वारा चार धाम यात्रा पुनः प्रारंभ करने के निर्णय पर राज्य सरकार सहृदय आभार व्यक्त करती है।  इस निर्णय से न केवल धार्मिक भावनाओं का सम्मान हुआ है बल्कि प्रदेश के लाखों लोगों की आजीविका पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ेगा। ” तो कल से बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के कपाट खुल जाएंगे और भक्त अब अपने भगवन के दर्शन कर पाएंगे।