MP Politics

    • अनुभवी, युवा व महिला सदस्यों पर जोर
    • स्वदेशी कू समेत सभी सोशल प्लेटफॉर्म्स पर सक्रियता
    • डिजिटल टूल्स द्वारा नए सदस्यों को जोड़ने की कवायद

    भोपाल: राष्ट्रीय स्तर की पार्टी बनने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रही अपना दल (एस), मध्य प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर एक्टिव हो गई है। पिछले दिनों इंदौर में पार्टी प्रदेश अध्यक्ष अमृतलाल पटेल के नेतृत्व में हुई बैठक में सम्पूर्ण 52 जिलों के लिए विभिन्न पदों तथा जिम्मेदारियों का बटवारा किया गया। इस मौके पर मुख्य रूप से प्रदेश उपाध्यक्ष मकेश मराठा, प्रदेश महासचिव बी के गौर, प्रदेश सचिव हरीश तलरेमा और पार्टी रणनीतिकार अतुल मलिकराम उपस्थित रहे।

    पार्टी नीतिगत तरीके से चुनावी रण में उतरने की तैयारी में है, जिसके लिए प्रदेश प्रवक्ता से लेकर अध्यक्ष, उपाध्यक्ष कोषाध्यक्ष, संगठन मंत्री, मीडिया प्रभारी आदि पदों पर अनुभवी, युवा व महिला कार्यकारिणी का गठन किया गया है। बैठक में सभी के लिए सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने, नए कू व ट्विटर एकाउंट्स बनाने, डिजिटल टूल्स के माध्यम से नए सदस्यों को जोड़ने और साप्ताहिक रिपोर्टिंग जैसी गाइडलाइंस जारी की गई है।

    इस मौके पर प्रदेशाध्यक्ष अमृतलाल पटेल ने मध्य प्रदेश के भीतर डॉ सोनेलाल पटेल की विचारधारा के अनुरूप संगठन की मजबूती और पार्टी की जन कल्याणकारी गतिविधियों को जन-जन तक पहुंचाने की बात पर जोर देते हुए, सभी पदाधिकारियों को मर्यादित तरीके से सकारात्मकता के साथ आगे बढ़ने का सन्देश दिया।

    2023 की चुनावी रणनीतियों के लिए पार्टी के साथ प्रमुख रूप से जुड़े राजनीतिक विश्लेषक व रणनीतिकार अतुल मलिकराम ने कहा कि, अपना दल (एस) नए युग की पार्टी है और युवा साथियों के साथ पिछड़े, गरीब या कमजोर तबके के लिए एक बेहतर भविष्य की परिकल्पना को साकार करने की दिशा में कार्य कर रही है।

    हम खिलाफत, बगावत, या नफरत की राजनीति से दूर, एक वर्ग विशेष और जरूरतमंदों के उत्थान को प्राथमिकता देने में यकीन रखते हैं। प्रदेश कार्यकारिणी का हिस्सा मीडिया प्रभारी अनिल सोनी ने जिम्मेदारी नियुक्ति पर कहा कि, “आगामी चुनाव में पार्टी के आधार से जुड़ने पर खुश हूं और अपनी सम्पूर्ण क्षमता के साथ सभी जिम्मेदारियों का निर्वहन करने हेतु प्रतिबद्ध हूं।

    मध्य प्रदेश कार्यकारिणी में अगल अगल स्तर पर शामिल हुए, उपाध्यक्ष वंदना नामदेव, पंकज रघुवंशी, धीरेन्द्र सिंह, महासचिव एस. आर. नागले, मंचित लिखिवर, मनोज अस्थाना, हरिहर सिंह, अमृतलाल पटेल (पटेहरा), प्रादेशिक सचिव प्रभा सिंह, राजेश पटेल, राजेश्वर प्रसाद मिश्रा, कैलाश गावंडे, सुधीर पटेल, हर प्रसाद पटेल, डी. पी. पटेल, मीडिया प्रभारी अनिल सोनी तथा कोषाध्यक्ष उपेंद्र रमन सिंह आदि को जिला स्तर पर अपने नीचे कार्य समिति का गठन करने, युवा व ग्रामीण अध्यक्ष बनाने, विभिन्न गतिविधियों का संचालन करने, किसी प्रकार का पार्टी विरोधी बयान देने या सार्वजनिक सभ्यता बिगाड़ने जैसी गतिविधियों से दूर रहने इत्यादि फॉर्मूलों पर काम करने के लिए कहा गया है।