rape
File Photo

    भोपाल: भोपाल में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक युवा जोड़े ने भागकर अंतरजातीय विवाह किया था। जिससे गुस्साए लड़की के पिता ने पहले बेटी का बलात्कार किया और बाद में उसकी हत्या कर दी। पहले बेटा, फिर पत्नी के करुण अंत का सदमा पति भी नहीं बर्दास्त कर सका और शुक्रवार को उसने भी खुदखुशी कर ली। 

    एएसपी सीहोर समीर यादव ने बताया कि इछावर में परिवार से अलग किराए का कमरा लेकर रह रहे युवक ने शुक्रवार सुबह 11 बजे के आसपास फांसी लगा ली। मौके से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। युवक ने सीहोर के एक गांव में रहने वाली युवती से डेढ़ वर्ष पहले प्रेम विवाह किया था।

    युवती की पांच नवंबर को उसके पिता ने रातीबड़ थाना इलाके के जंगल में दुष्कर्म करने के बाद हत्या कर दी थी। इसके बाद से युवक दुखी था। रातीबड़ थाना प्रभारी सुधेश तिवारी ने बताया कि दुष्कर्म और हत्या के मामले में पुलिस युवती के पिता और भाई को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है और पुलिस आगे की जांच कर रही है। 

    लड़की के पिता ने हत्या की बात कबूल की

    कुछ दिन पहले पुलिस को समसगढ़ के जंगल में एक युवती और एक बच्चे का शव मिला था। जांच में पता चला कि युवती बिलकिसगंज की रहने वाली थी। मामले की जांच के बाद लड़की के पिता कमल ने हत्या की बात कबूल कर ली। लड़की के पिता किसान हैं।

    क्या है मामला 

    युवती ने डेढ़ साल पहले दूसरी जाति के युवक के साथ रायपुर भाग कर शादी कर ली। इसलिए पिता लड़की से बदला लेना चाहता था। दीवाली के दिन, लड़की की बड़ी बहन ने अपने पिता को फोन किया और बताया कि मृतक लड़की अपने आठ महीने के बेटे के साथ घर आई थी। बता दें कि पीड़िता का नन्‍हा शिशु बीमार हुआ तो इलाज नहीं मिल पाने के कारण उसकी मौत हो गई।

    लड़की के पिता अपने बेटे को लेकर उसके घर पहुंचे। पिता ने पूरी स्थिति का आकलन करते हुए बच्ची से कहा कि अब बच्चे के शव को दफना दिया जाए। इसके लिए पिता, उसका बेटा और उसकी छोटी बेटी बच्ची के शव को लेकर जंगल में चले गए। फिर वह लड़की और बच्चे के शरीर को अंदर एक नाले में ले गया। उसने बच्चे के शव को एक तरफ छोड़ा। और अपनी बेटी के साथ पहले बलात्कार किया और चाकू मारकर हत्या कर दी।