File Photo
File Photo

    इंदौर: इंस्टाग्राम पर फर्जी प्रोफाइल के जरिये लोगों को अश्लील वीडियो कॉल का झांसा देकर ठगने वाले गिरोह का खुलासा करते हुए इंदौर में पांच लोगों को बुधवार को गिरफ्तार किया गया। इनमें एक महिला शामिल है। पुलिस के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त (अपराध निरोधक शाखा) गुरुप्रसाद पाराशर ने बताया कि गिरोह के सदस्य महिलाओं की आकर्षक तस्वीरें लगाकर इंस्टाग्राम पर फर्जी प्रोफाइल बनाते थे और इनके जरिये इस सोशल मीडिया मंच पर लोगों से जुड़कर उन्हें अश्लील वीडियो कॉल और नग्न तस्वीरों का झांसा देते थे।

    पाराशर ने बताया कि गिरोह में शामिल महिला वॉयस नोट भेज कर लोगों को जाल में फंसाती थी और भरोसा दिलाती थी कि तय रकम चुकाए जाने पर उन्हें अश्लील वीडियो कॉल और नग्न तस्वीरों की अनैतिक सेवाएं दी जाएंगी। उन्होंने बताया, ‘‘जाल में फंसे लोगों से ऑनलाइन माध्यमों के जरिये पेशगी रकम मंगाई जाती थी और धन मिलते ही उन्हें इंस्टाग्राम पर ब्लॉक कर दिया जाता था।

    ठगी के शिकार ज्यादातर लोग सामाजिक बदनामी के डर से पुलिस या किसी और को शिकायत भी नहीं कर पाते थे।” अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त के मुताबिक गिरोह ने वारदात के इस तरीके से 30 से 35 लोगों के साथ ऑनलाइन ठगी करना स्वीकारा है। उन्होंने बताया कि गिरोह के खिलाफ विस्तृत जांच की जा रही है और उसकी ठगी के शिकार लोगों की तादाद बढ़ सकती है। (एजेंसी)