एनडीपीएस दल की बड़ी कार्रवाई, नशे की अवैध रुप से बटन गोलियां बेचने वालों दो गिरफ्तार

    औरंगाबाद : स्थानीय सीपी डॉ. निखिल गुप्ता (CP Dr. Nikhil Gupta) ने शहर में पिछले कुछ महीने से जारी अवैध नशे (Illegal Drugs) के कारोबार को पूरी तरह से बंद करने का बीडा उठाया है।  उसमें उन्हें कामयाबी भी मिल रही है। सीपी डॉ. गुप्ता द्वारा अवैध नशे के कारोबार को बंद करने के लिए गठित किए एनडीपीएस टीम (NDPS Team) ने शहर के उस्मानपुरा क्षेत्र में छापा मारकर अवैध रुप से नशे की गोलियों (Tablets) बेचने वाले दो अभियुक्तों को गिरफ्तार (Arrested) कर उनसे करीब 600 नशे की गोलियां बरामद की। पुलिस की इस कार्रवाई से शहर में अवैध रुप से नशे का कारोबार करने वालों में खलबली मची है। 

    एनडीपीएस दल के एपीआई सैयद मोहसीन अली ने बताया कि हमें सूचना मिली थी कि उस्मानपुरा परिसर में एक व्यक्ति अवैध बटन नामक नशे की गोलियां बेच रहा है। इसी जानकारी पर एनडीपीएस दल ने जाल बिछाकर नशे के गोलियां बेच रहे 43 वर्षीय राम धोंडू काले की तलाशी लेने पर उसके पास बटन नामक 45 नशे की गोलियां पायी गयी। उससे अधिक पूछताछ करने पर उसने पुलिस को बताया कि उसने यह गोलियां शहर के एन-2 ठाकरे नगर निवासी दीपक साहेबराव हावले से खरीदी। इसी जानकारी पर एनडीपीएस टीम ने ठाकरे नगर में जाल बिछाया। तब प्रमुख आरोपी दीपक हावले अपनी बोलेरो जीप क्रमांक (एमएच 20 एफयू-8086) में अवैध रुप से बटन नामक नशे की गोलियां बेचते हुए पाया गया। पुलिस ने उसकी तलाशी लेने पर उसके पास नशे की बटन नामक 555 गोलियां पायी गयी। जिसके कीमत साढ़े तीन हजार से अधिक थी। 

    लातूर और परभणी से खरीदी गई थी नशे की गोलियां 

    मुख्य आरोपी दीपक हावले ने पुलिस को बताया कि मेरे पहचान के परभणी की महिला डॉक्टर और सेलू की एक डॉक्टर के लेटर पैड पर नशे की गोलियां लातूर, परभणी के अलग-अलग मेडिकल से खरीदी। उसके बाद उन गोलियों को अधिक दाम में औरंगाबाद लाकर बेचा जा रहा था। उन दोनों आरोपियों के खिलाफ शहर के उस्मानपुरा पुलिस स्टेशन में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। पुलिस ने उन दोनों आरोपियों से 600 नशे की गोलियां, एक बोलेरो जीप, मोबाइल ऐसा करीब 10 लाख रुपए का माल जप्त किया। यह कार्रवाई शहर के सीपी डॉ. निखिल गुप्ता, क्राइम ब्रांच के एसीपी ढुमे, क्राइम ब्रांच के पीआई अविनाश आघाव के मार्गदर्शन में एपीआई सैयद मोहसीन अली, एएसआई नंदकुमार भंडारे, सैयद शकील, प्रकाश गायकवाड, आनंद वाहुल, धर्मराज गायकवाड, प्राजक्ता वाघमारे, चालक शंकर सुंदरहड, औषधि निरीक्षक जेडी जाधव ने पूरी की। शहर के सीपी डॉ. गुप्ता ने एनडीपीएस की इस कार्रवाई पर खुशी जाहिर करते हुए पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों की प्रशंसा की।