farmers
File Photo

  • 4 महीने बितने के बाद भी नहीं मिली राशि

तुमसर. तहसील में सब्जियों की खेती मानसून के दौरान बाढ़ के नष्ट हो गई थी. कृषि विभाग की ओर से खेत पर जाकर पंचनामा किया किया गया था. अभी दिसंबर समाप्ति की ओर होने के बावजूद किसानों को अब तक फसल बीमा राशि नहीं मिली है. इससे किसानों में रोष व्याप्त है. जुलाई अगस्त में अधिक बारिश होने से आयी बाढ़ के कारण किसानों की धान व सब्जियों की फसल को भारी नुकसान हुआ था बाढ़ ने पूरी फसल को नष्ट कर दिया था, किंतु किसानों को अब तक पीएम फसल बीमा का लाभ नहीं मिला है.

सरकार के खिलाफ रोष

किसानों की ओर से गत 4 महीने से इंतजार किया जा रहा है. कृषि विभाग की ओर से धान व सब्जी की खेती नष्ट होने का पंचनामा तयार कर अपनी रिपोर्ट वरिष्ठ अधिकारियों को भेजी गई थी. इस कारण दिसंबर में बीमा राशि मिलेगी ऐसी किसानों को उम्मीद थी, किंतु अब तक किसानों को फसल बीमा योजना का लाभ नहीं मिला है. जिससे सरकार के खिलाफ असंतोष का वातावरण निर्माण हो गया है.

वास्तविक रूप से फसल की क्षति होने के बाद भी फसल बीमा योजना का लाभ  प्राप्त होने में देरी हो रही है. जिससे किसानों में असमंजस की स्थिति निर्माण हो गई है. इस संदर्भ पूर्व पंस सदस्य हीरालाल नागपुरे ने मुख्यमंत्री को भेजे निवेदन में क्षेत्र के किसानों को तत्काल बीमा योजना की राशि उपलब्ध कराने की मांग की गईं है.