NCP chief Sharad Pawar
File Pic

    मुंबई: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के नेताओं ने पार्टी प्रमुख शरद पवार (NCP Chief Sharad Pawar) के खिलाफ मराठी अभिनेत्री केतकी चिताले द्वारा फेसबुक पर एक ‘‘अपमानजनक” पोस्ट साझा करने पर शनिवार को कड़ी आपत्ति जतायी और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की। ऐसा आरोप है कि टीवी और फिल्म अभिनेत्री द्वारा एक दिन पहले साझा किया गया पोस्ट किसी और ने लिखा था।  

    इस पर प्रतिक्रिया देते हुए महाराष्ट्र के आवासीय विकास मंत्री जितेंद्र आव्हाड ने कहा कि राकांपा से जुड़े युवा इस पोस्ट के संबंध में महाराष्ट्र में ‘‘कम से कम 100-200” पुलिस थानों में मामले दर्ज कराएंगे। कुछ राकांपा नेताओं ने सोशल मीडिया पर पवार के खिलाफ की जा रही ऐसी टिप्पणियों को भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से भी जोड़ा है। मराठी में लिखे पोस्ट में राकांपा प्रमुख का पूरा नाम नहीं लिखा है। लेकिन इसमें पवार उपनाम और 80 वर्ष की आयु लिखी है। राकांपा नेता 81 वर्ष के हैं।

    ‘‘नरक इंतजार कर रहा है” और ‘‘आप ब्राह्मणों से नफरत करते हैं” जैसी टिप्पणियां पोस्ट में लिखी हैं जो कथित तौर पर वरिष्ठ नेता की आलोचना है। अभिनेत्री पर पलटवार करते हुए आव्हाड ने कहा कि राकांपा कार्यकर्ता उनके नेता के बारे में ऐसी ‘‘घिनौनी” टिप्पणियों को बर्दाश्त नहीं करेंगे।  

    उन्होंने कहा, ‘‘जो बर्दाश्त करना चाहते हैं, वे करेंगे। लेकिन हम इस तरह की टिप्पणियां पढ़कर असहज महसूस करते हैं। समाज असहज महसूस करेगा। महाराष्ट्र में हमारे युवा अपराध दर्ज कराने के लिए कम से कम 100-200 पुलिस थानों में जाएंगे…वह (पवार) राकांपा परिवार के पिता हैं। वह हमारे लिए सबकुछ हैं और उनके बारे में ऐसी घिनौनी टिप्पणियां की गयी है और वह भी एक महिला द्वारा।”  

    महाराष्ट्र के एक अन्य मंत्री और राकांपा के वरिष्ठ नेता छगन भुजबल ने भी अभिनेत्री के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की मांग की है। भुजबल ने कहा, ‘‘(मामले में) तत्काल कार्रवाई की जानी चाहिए। यह मायने नहीं रखता कि चाहे वह अभिनेत्री हो, अभिनेता या कोई मंत्री। उन्हें ऐसा बयान देने का कोई अधिकार नहीं है।” उन्होंने एक सोशल मीडिया उपयोगकर्ता पर भी आक्रोश जताया, जिसने हाल में ट्विटर पर कथित तौर पर कहा था कि ‘‘बारामती के गांधी” के लिए ‘‘बारामती के नाथूराम गोडसे” को तैयार करने का वक्त आ गया है।  

    पोस्ट के लिए चिताले पर निशाना साधते हुए राकांपा प्रवक्ता क्लाइड क्रेस्टो ने कहा कि अभिनेत्री ने भाजपा की महाराष्ट्र इकाई के नेताओं से सीखा है कि ‘‘सस्ती और मुफ्त की लोकप्रियता” पाने का सबसे अच्छा तरीका पवार के खिलाफ अपमानजनक बयान देना है। क्रेस्टो ने ट्वीट किया, ‘‘उन्होंने (भाजपा नेताओं ने) सब आजमा लिया और नाकाम हो गए, इस महिला के साथ भी यही होगा। उम्मीद करता हूं कि ईश्वर उन्हें कुछ सदबुद्धि दें।”  

    महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष रुपाली चकनकर ने नागपुर में पत्रकारों से कहा, ‘‘यह आलोचना निंदनीय है..उन्हें ऐसी आलोचना में शामिल नहीं होना चाहिए।” राकांपा की महाराष्ट्र महिला ईकाई की प्रमुख विद्या चव्हाण ने भी कहा कि अभिनेत्री के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और उन्होंने युवाओं द्वारा सोशल मीडिया पर पवार के बारे में ऐसी टिप्पणियां करने के लिए आरएसएस को जिम्मेदार ठहराया। (एजेंसी)