Thief had escaped from hospital during corona treatment in Thane, Maharashtra, was caught from Silvassa after seven months
Representative Photo

    मुंबई: मुंबई पुलिस (Mumbai Pollice) की साइबर सेल (Cyber Cell) ने नए साल (New Year) का जश्न मनाने के लिए होटल, निजी बंगलों, रिसोर्ट और विला की बुकिंग करने के नाम पर लोगों को ठगने (Cheating) के आरोप में दो लोगों को गिरफ्तार (Arrested) किया है।  पुलिस ने जिन दो लोगों को गिरफ्तार किया है उनके नाम आकाश जाधव और अविनाश जाधवानी है। दोनों आरोपियों पर पर्यटन स्थलों पर स्थित होटल और निजी बंगलों की फर्जी बुकिंग कर लोगों को ठगने का आरोप है। इन दोनों की ठगी का शिकार हुई एक महिला ने साइबर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी।

    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, शिकायतकर्ता महिला मुंबई की रहने वाली है और इसने ऑनलाइन जानकारी हासिल करने के बाद आरोपियों से लोनावाला में बंगले की बुकिंग के लिए संपर्क किया था। ताकि वह वहां नए साल के मौके पर अपने परिवार और दोस्तों के साथ पार्टी कर सकें। इसके लिए आरोपियों से 72 हजार रुपए में बात तय हुई थी। आधे पैसे का भुगतान भी कर दिया, किन्तु बाद में आरोपियों ने उनसे संपर्क तोड़ लिया। इसके बाद महिला ने बंगले के मालिक से संपर्क किया तो मालिक ने बंगले की बुकिंग को लेकर अज्ञानता जाहिर की। तब महिला को बुकिंग के फर्जीवाड़े का एहसास हुआ और उसने साइबर पुलिस से संपर्क किया।

    आरोपियों के खिलाफ दर्ज हैं कई मामले 

    पुलिस उपायुक्त (साइबर सेल) रश्मी करंदीकर के मुताबिक, महिला की शिकायत के बाद महिला पुलिस निरीक्षक सविता शिंदे और पुलिस उप निरीक्षक अमित पांडे की जांच के दौरान पता चला है कि दोनों आरोपियों के खिलाफ होटल की फर्जी बुकिंग के मुंबई, नई मुंबई, ठाणे, मीरा रोड, भायंदर और पिंपरी-चिंचवड़ में 12 आपराधिक मामले दर्ज हैं। पुलिस ने कहा कि अभी भी हमारी जांच जारी है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 420 और सूचना प्रोद्योगिक कानून की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार किया है।