Pimpri Chinchwad Municipal Corporation

    पिंपरी:  आगामी आम चुनाव के लिए पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका प्रशासन (Pimpri-Chinchwad Municipal Administration) ने आखिरकार राज्य चुनाव आयोग (State Election Commission) को एक वार्ड परिसीमन (Ward Delimitation) के मसौदे का प्रस्ताव प्रस्तुत किया, जिसमें जनसंख्या के बारे में विस्तृत जानकारी और प्रगणक समूह (ब्लॉक) की भौगोलिक सीमाओं के बारे में विस्तृत जानकारी शामिल है। इस पर लोगों से आपत्ति सुझावों के लिए अगले सप्ताह इसका ड्राफ्ट जारी होने की उम्मीद है। नया वार्ड (New Ward)कैसा रहेगा, इसमें कौन सा हिस्सा जोड़ा जाएगा, कौन सा हिस्सा छूटेगा, इसको लेकर नगरसेवकों (Corporators) समेत चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों और नागरिकों में काफी उत्सुकता हैं।

    इस बीच, अगले सप्ताह सोमवार को साफ हो जाएगा कि महानगरपालिका चुनाव फरवरी में या कुछ महीने बाद होंगे। ऐसा इसलिए है क्योंकि स्थानीय निकायों में ओबीसी के राजनीतिक आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट सोमवार (17 दिसंबर) को महत्वपूर्ण सुनवाई करने जा रहा है। आगामी महानगरपालिका चुनावों का भविष्य भी न्यायालय के निर्णय पर निर्भर करता है। महानगरपालिका चुनाव का क्या होगा यह सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद ही स्पष्ट होगा।

    मॉडल वार्डों के गठन का प्रस्ताव प्रस्तुत करने का निर्देश 

    पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका चुनाव तीन सदस्यीय प्रणाली में होंगे। चुनाव आयोग द्वारा दी गई 30 नवंबर, 2021 की समय सीमा के भीतर महानगरपालिका प्रशासन योजना तैयार नहीं कर सका, इसलिए आयोग ने समय सीमा 6 दिसंबर तक बढ़ा दी थी। महानगरपालिका प्रशासन द्वारा तैयार मसौदा योजना 6 दिसंबर, 2021 को एक पेनड्राइव में आयोग को प्रस्तुत की गई थी। इसे 11 दिसंबर को आयोग के सामने पेश किया गया था। आयोग ने इसमें कुछ संशोधनों का सुझाव दिया था।  तदनुसार परिवर्तन किए गए हालांकि आयोग ने तब 6 जनवरी, 2022 तक मॉडल वार्डों के गठन का प्रस्ताव प्रस्तुत करने का निर्देश दिया था, जिसमें आरक्षण की पुष्टि के लिए जनसंख्या, प्रगणक समूह (ब्लॉक) की भौगोलिक सीमाओं की विस्तृत जानकारी शामिल है। बाद में इसकी मियाद 15 जनवरी तक बढ़ा दी गई।

    आपत्तियां और सुझाव आमंत्रित की जाएंगे

    तद्नुसार सदस्यता और आरक्षण की गणना, परिक्षेत्र एवं सीमाओं का विवरण, निर्वाचन वार्डों में सम्मिलित प्रगणक समूह एवं जनसंख्या, प्रगणक समूहवार सूचना, अनुसूचित जाति का वार्डवार अवरोही क्रम, अनुसूचित जनजाति का अवरोही क्रम, सदस्यों का संयुक्त विवरण एवं आरक्षण के संबंध में, संभाग समिति का प्रमाण पत्र प्रस्तावित विस्तृत दस्तावेजी जानकारी जैसे ड्राफ्ट वार्ड संरचना के संबंध में जारी किया जाने वाला प्रमाण पत्र के दस्तावेज समेत यह प्रस्ताव चुनाव आयोग को पेश किया गया। सहायक चुनाव आयुक्त बालासाहेब खांडेकर व्यक्तिगत रूप से मुंबई गए और आयोग को प्रस्ताव प्रस्तुत किया। अब सबकी निगाहें इस बात पर हैं कि यह वार्ड परिसीमन का मसौदा कब जारी होगी। मसौदा अगले सप्ताह प्रकाशित होने की उम्मीद है और इस पर आपत्तियां और सुझाव आमंत्रित की जाएंगे। चुनाव आगे बढ़ने पर भी आयोग से आपत्तियों पर सुनवाई की प्रक्रिया पूरी करने की उम्मीद है।

     हर तरफ वार्ड परिसीमन की चर्चा 

    अतिरिक्त आयुक्त जितेंद्र वाघ ने कहा कि ड्राफ्ट वार्ड संरचना आयोग को पहले ही जमा कर दी गई थी। सहायक आयुक्त बालासाहेब खांडेकर विस्तृत प्रस्ताव पेश करने के लिए मुंबई गए हैं। दोपहर में चुनाव आयोग को प्रस्ताव पेश किया गया। योजना कब प्रकाशित करनी है, कब और कितने दिन आपत्ति लेनी है, आरक्षण कब छोड़ना है, इसका पूरा कार्यक्रम आयोग देगा? योजना तदनुसार प्रकाशित की जाएगी। वार्ड संरचना में नगरसेवकों के साथ-साथ इच्छुक उम्मीदवारों और नागरिकों के बीच उत्सुकता है।  मैं इस बात को लेकर बहुत उत्सुक हूं कि नया वार्ड कैसा रहेगा, इसमें कौन सा हिस्सा जोड़ा गया है, कौन सा हिस्सा छूट गया है। हर तरफ वार्ड परिसीमन की चर्चा हो रही है। आयोग ने निगम की योजना में कितने परिवर्तन किए और यदि योजना को यथास्थिति में स्वीकार कर लिया गया तो योजना को नागरिकों के लिए कब प्रकाशित किया जाएगा? इसको लेकर प्रत्याशी चुनाव विभाग से सवाल कर रहे हैं।

    तीन सदस्यीय 45 और 4 सदस्यों के लिए एक वार्ड होगा!

    पिंपरी-चिंचवड़ शहर की आबादी 17 लाख 27 हजार 692 है। इसकी आबादी 2 लाख 73 हजार 810 अनुसूचित जाति (एससी) और 36 हजार 535 अनुसूचित जनजाति (एसटी) है। पार्षदों की संख्या 139 है। 139 पार्षदों में से 69 पुरुष और 70 महिला पार्षद होंगी। 114 सीटें ओपन कैटेगरी के लिए होंगी इनमें से 57 सीटें महिलाओं के लिए होंगी।  22 सीटें अनुसूचित जाति (एससी) के लिए आरक्षित होंगी।  इसमें 11 महिलाओं और 11 पुरुषों के लिए सीटें होंगी। ऐसी 3 सीटें 2 महिलाओं और 1 पुरुष के लिए अनुसूचित जनजाति (एसटी) के लिए आरक्षित होंगी।  चुनाव में कुल 46 वार्ड होंगे। इसमें 3 सदस्यों के 45 वार्ड और 4 सदस्यों का एक वार्ड होगा।