arrest
प्रतीकात्मक तस्वीर

    कोटा:  कनिष्ठ अधिकारी के साथ दो साल तक बलात्कार करने के आरोप में श्रम आयुक्त को गिरफ्तार कर रविवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया।

    पुलिस ने बताया कि कोटा शहर पुलिस ने जिले के श्रम आयुक्त कार्यालय में पदस्थापित एक कनिष्ठ महिला अधिकारी का बलात्कार और यौन शोषण करने के सिलसिले में संयुक्त श्रम आयुक्त प्रदीप कुमार झा (55) को गिरफ्तार किया है।  पीड़िता ने इस साल 12 जुलाई को इस संबंध में कोटा के पुलिस अधीक्षक (सदर) के समक्ष शिकायत दर्ज करायी थी। इस सिलसिले में शहर के नयापुरा थाने में प्राथमिकी दर्ज की गयी है।

    डीएसपी और क्षेत्राधिकारी भागवत सिंह हिंगाड ने बताया कि जांच शुरू करके आरोपी को शनिवार को गिरफ्तार किया गया। उन्होंने कहा कि झा को रविवार को अदालत में पेश किया गया जिसने उन्हें न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। आरोपी फिलहाल जोधपुर में पदस्थापित हैं और उन्होंने कोटा में 2019 से 2020 तक अपनी पदस्थापना के दौरान उक्त अपराध किया।

    डीएसपी ने बताया कि झा को मामले में पूछताछ के लिए जोधपुर से कोटा तलब किया गया था, उसके बाद गिरफ्तार किया गया। महिला अधिकारी ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया कि झा ने उसके खिलाफ विभागीय कार्रवाई करने की धमकी देकर दो साल तक उससे बलात्कार किया और उसका यौन शोषण किया। (एजेंसी)