Congress
File Photo

    -राजेश मिश्र

    लखनऊ : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के आगामी विधानसभा चुनावों (Assembly Elections) में सपा-भाजपा (SP-BJP) से इतर तीसरा कोण बनाने में जुटी कांग्रेस (Congress) अब पदयात्रा के जरिए माहौल बनाएगी। कांग्रेस पदयात्राओं के दौरान ही 5000 नुक्कड़ सभाएं भी करेगी। इससे पहले अक्टूबर में कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश में चार अलग-अलग स्थानों से वाहनों के जरिए प्रतिज्ञा यात्रा निकाली थी। अब पार्टी प्रदेश की सभी विधानसभाओं में पदयात्रा निकालेगी। कांग्रेस ने इस कार्यक्रम को महंगाई (Inflation) के खिलाफ पदयात्रा का नाम देते हुए प्रदेश के सभी विधानसभाओं में 32,240 किलोमीटर की दूरी तय करने का फैसला किया है।

     इस दौरान पार्टी के बड़े नेता जो खास तौर पर संबधित क्षेत्र से आते हों, वो मौजूद रहेंगे और 5000 से ज्यादा नुक्कड़ सभाएं आयोजित की जाएंगी। पहले की तरह ही इसे प्रतिज्ञा पदयात्रा का नाम दिया गया है। कांग्रेस मीडिया विभाग के वाइस चेयरमैन पंकज श्रीवास्तव के मुताबिक, नेहरू जयंती 14 नवंबर से 24 नवंबर के बीच 403 विधानसभाओं में ‘भाजपा हटाओ-महंगाई भगाओ’ के नारे के तहत निकलेगी पदयात्रा।

    कांग्रेस ने किए कई वादे

    विधानसभा के टिकटों में महिलाओं को 40 फीसदी आरक्षण, लड़कियों को स्मार्ट फोन, स्कूटी, दस लाख तक मुफ्त सरकारी इलाज, महिलाओं को मुफ्त तीन गैस सिलेंडर, मुफ्त बस यात्रा और किसानों की कर्जमाफी जैसे वादों के साथ विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने सत्ता पक्ष के साथ ही विपक्ष में भी हलचल पैदा कर दी है। मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी और योगी के गढ़ गोरखपुर में बड़ी रैली कर प्रियंका गांधी ने अपनी ताकत भी दिखायी है।

    कांग्रेस का सबसे ज्यादा जोर महिलाओं, किसानों और युवाओं पर 

    यूपी चुनावों में कांग्रेस का सबसे ज्यादा जोर महिलाओं, किसानों और युवाओं पर है। पार्टी ने अब तक जो संकल्प पत्र के जरिए वादे किए हैं वो इन्ही वर्गों से संबंधित हैं। महिलाओं को टिकट देना, मुफ्त गैस सिलेंडर, सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा की सुविधा, 12 वीं की छात्राओं को स्मार्टफोन और स्नातक छात्राओं को स्कूटी हो या बड़े पैमाने पर महिलाओं के सेवा योजना वाली आंगनबाड़ी और आशा बहुओं जैसी नौकरियों में मानदेय को बढ़ाकर 10000 रुपए किए जाने जैसे वादे इस वर्ग को लुभाने के लिए किए गए हैं। किसानों की कर्ज माफी के साथ ही उन्हें धान गेंहू की कीमत 2500 रुपए कुंतल और गन्ना 400 रुपए कुंतल खरीद का वादा भी कांग्रेस ने किया है।

    रोज़ाना होगी नुक्कड़ सभा 

    कार्यक्रम के मुताबिक, प्रत्येक दिन न्यूनतम 10 किलोमीटर की पदयात्रा होगी। पंकज श्रीवास्तव ने बताया कि हर दिन न्यूनतम 7 ग्रामसभाओं या वार्डों से होकर पदयात्रा निकलेगी। पदयात्रा के दौरान महंगाई की समस्या पर नागरिकों के साथ बैठक होगी और घर-घर कांग्रेस के प्रतिज्ञापत्र का वितरण होगा। पदयात्रा के रूट पर पड़ने वाले हाट और बाज़ार में शाम को रोज़ाना नुक्कड़ सभा होगी।

    प्रत्येक विधानसभा में 80 किलोमीटर की पदयात्रा  

    प्रत्येक विधानसभा में कुल 8 नुक्कड़ सभा होगी। हर दो दिन की यात्रा के बाद एक दिन का विश्राम होगा। कुल मिलाकर एक विधानसभा में चार टुकड़ों में आठ दिन की पदयात्रा होगी। प्रत्येक विधानसभा में 80 किलोमीटर की पदयात्रा होगी जो न्यूनतम 60 ग्रामसभाओं या वार्डों से होकर निकलेगी। हाल के दिनों में कांग्रेस ने न्याय पंचायत और ग्राम पंचायत स्तर पर संगठन तैयार किया है। पार्टी का मानना है कि संगठन निर्माण का फायदा इस पदयात्रा में मिलेगा।

    कुल 24,180 ग्रामस्तरीय बैठक होगी 

    यूपी में कांग्रेस की पदयात्रा के दौरान प्रदेश के गांवों में बैठकों का दौर चलेगा। यह बैठकें अनौपचारिक तरीके से संवाद का जरिया बनेगी जहां लोगों से महंगाई के असर, निपटने के सरकारी उपायों, नाकामी और खेती किसानी पर हुए असर के बारे में बात करने के साथ ही रोजगार के घटते अवसरों पर चर्चा होगी। कुल 24,180 ग्रामस्तरीय बैठक होगी और 5000 नुक्कड़ सभाओं का आयोजन होगा।