बीजेपी सांसद रतन लाल कटारिया (Photo Credits-DD News Twitter)
बीजेपी सांसद रतन लाल कटारिया (Photo Credits-DD News Twitter)

    नई दिल्ली: देश में कोविड प्रबंधन (COVID-19 Pandemic) के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) के नेतृत्व की प्रशंसा करते हुए भाजपा के एक सदस्य ने बृहस्पतिवार को लोकसभा में कहा कि महामारी के दौरान देश में भुखमरी से मृत्यु का एक भी मामला सामने नहीं आया। भाजपा सांसद रतन लाल कटारिया (BJP MP Rattan Lal Kataria) ने सदन में नियम 193 के तहत कोविड से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा में विपक्ष पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया, ‘‘विपक्ष के लोगों ने देश की जनता के साथ जघन्य अपराध किया और सफल टीकाकरण अभियान पर तरह-तरह की नुक्ता-चीनी की जबकि टीकाकरण अभियान की आज पूरी दुनिया प्रशंसा कर रही है।”

    कटारिया ने कहा कि देश में कोविड रोधी टीका लगाने का रिकॉर्ड बनाया गया है और अमेरिका से दोगुना टीकाकरण हो चुका है जिसकी संयुक्त राष्ट्र समेत विश्व मंचों पर प्रशंसा हो रही है। उन्होंने कहा, ‘‘आज हम देख रहे हैं कि हमारे पास 15 हजार से भी ज्यादा विशेष अस्पताल कोविड प्रबंधन के लिए सफलतापूर्वक काम कर रहे हैं। 75 हजार आईसीयू बिस्तर और 14 लाख पृथकवास बिस्तर हैं। जांच, निगरानी और उपचार का काम तेजी से चल रहा है।”

    कटारिया ने कहा कि महामारी के समय अर्थव्यवस्था पर असर पड़ा लेकिन आज भारत सबसे तेज गति से चलने वाली अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा कि कोविड के बाद देश में न केवल संक्रमण से लोगों को बचाया गया बल्कि अर्थव्यवस्था को भी पटरी पर लाने का काम किया गया।  

    उन्होंने कहा कि आज से लगभग सौ वर्ष पहले जब एक महामारी आई थी तो मृत्यु के आधे मामले भुखमरी के थे। उन्होंने कहा, ‘‘आज कोरोना महामारी के समय कोविड से मृत्यु के कुछ मामले जरूर आए लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रबंधन के कारण भुखमरी से कोई नहीं मरा।”  

    कटारिया ने प्रधानमंत्री मोदी की तुलना महात्मा गांधी से करते हुए कहा, ‘‘जिस तरह महात्मा गांधी के बारे में दुनिया कहती थी कि हाड़ मांस का एक व्यक्ति पैदा हुआ जिसने बिना लड़ाई के आजादी दिला दी। उसी तरह आज दुनिया सोच रही है कि नरेंद्र मोदी के रूप में भारत को वह नेता मिला है जो देश को विश्वमंच पर पहचान दिला रहा है और भारत की हर समस्या का समाधान कर रहा है।”  

    उन्होंने भविष्य में भी कोरोना वायरस संक्रमण के प्रकोप के प्रति आगाह रहने की जरूरत रेखांकित करते हुए कहा कि देश में टीके की दूसरी खुराक पर ध्यान देने की जरूरत है जिससे शत प्रतिशत आबादी का पूरा टीकाकरण हो और वायरस के नये स्वरूप के खतरे को टाला जा सके। 

    भाजपा सांसद ने कहा, ‘‘अब भी खबरें सतर्क करने वाली आ रही हैं। आराम से नहीं बैठना चाहिए। प्रधानमंत्री ने जो रास्ता दिखाया हे, उस पर चलकर आगे बढ़ने की जरूरत है।” उन्होंने कहा कि विपक्ष को अपना पक्ष अदा करना चाहिए लेकिन मानवता के विषय पर राजनीति नहीं करनी चाहिए और अच्छे कामों की सराहना करना चाहिए। (एजेंसी)