Praful Patel

  • सत्कार समारोह कार्यक्रम में प्रफुल ने कहा

तुमसर. काम करनेवाले व्यक्ति के साथ जनता ने खड़ा रहना चाहिए. अपने क्षेत्र का विकास कौन कर सकता है. इस बारे में जनता को सोचना चाहिए. लोगों को मानसिकता बदलने की आवश्यकता है. कार्यकर्ताओं को अपने संगठन को मजबूत बनाने के लिए कार्य करना चाहिए. उक्ताशय के विचार सांसद प्रफुल पटेल ने व्यक्त किए. तहसील के नाकाडोंगरी में राका डॉक्टर सेल के जिलाध्यक्ष  सचिन बावनकर के निवास प्रांगण में आयोजित  सत्कार समारोह व कार्यकर्ता सम्मेलन के अवसर पर वे बोल रहे थे.

उन्होंने कहा कि जिला खेती पर निर्भर है. किसानों की ओर ध्यान देना आवश्यक है. राकां पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं से आगामी जिप व पंस चुनाव के साथ ही संगठन को मजबूत करने के बारे में चर्चा की. बावनथड़ी पूर्ण कर किसानों के खेती तक पानी पंहुचाने व उनकी उपज को दाम दिलाने का कार्य किया है. राज्य में राकां के माध्यम से सत्ता परिवर्तन होकर महाविकास आघाड़ी की सरकार बनी थी. किसानों की उन्नति व परिसर के समुचित विकास की दृष्टि से कार्य करने पर क्षेत्र की उन्नति होगी.  

उचित नियोजन की जरूरत 

परिसर की उन्नति के लिए उचित नियोजन की आज आवश्यकता है. रोजगार का सवाल, किसानों, मजदूरों व गांव के विकास की दृष्टि से हमें उचित नियोजन कर कार्य करना होगा. कोरोना की वजह से नागरिकों ने आवश्यक सुरक्षा के साथ कार्य करने की जरूरत है.  

12 गांवों की पानी की समस्या होगी हल

पूर्व खापा के  समाधान सह. पत संस्था के प्रांगण में आयोजित  कार्यकर्ता बैठक में आगामी चुनाव को लेकर सूचनाएं दी.  गोबरवाही के  हनुमान चौक में आयोजित  कार्यकर्ता बैठक में पटेल ने गोबरवाही क्षेत्र के 12 गांव के ग्रामीणों की पानी की समस्या सुलझाने सार्थक प्रयास करने का आश्वासन दिया. करोड़ों युवाओं को बेरोजगार किया है.  सिहोरा में आयोजित  कार्यकर्ता बैठक का आयोजन किया गया है.  बैठक में पूर्व विप सदस्य राजेंद्र जैन, जिलाध्यक्ष नाना पंचबुधे, विधायक राजू कारेमोरे, पूर्व सांसद मधुकर कुकड़े, प्रदेश राकां सचिव धनंजय दलाल, अभिषेक कारेमोरे, मधुकर सांबरे, यशवंत सोनकुसरे, राकां विधानसभा अध्यक्ष विठ्ठल कहालकर, तहसील अध्यक्ष देवचंद ठाकरे, पूर्व जिप सभापति धनेन्द्र तुरकर, डॉक्टर सेल के जिलाध्यक्ष  सचिन बावनकर, सुरेश रहांगडाले, राजकुमार माटे, रायुकां अध्यक्ष ठाकचन्द मुंगुसमारे, दिलीप सोनवाने, दर्शन वाधवानी, उमेश कटरे, गोल्डी घडले, कपिल जैन, पूर्व पंस सदस्य अरविंद राउत, पूर्व जिप सदस्य गीता माटे, संगीता सोनवाने, वसंत चौधरी, इस्राइल शेख, शरद खोबरागड़े, निशिकांत पेठे, शिशुपाल गौपाले, राजू देशभरतार, ज्ञानीराम गौपाले, सुरेश गोखले, शालिक गौपाले पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे.