Coronavirus

    लखनऊ : 24 करोड़ की आबादी वाले उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना (Corona) के मात्र 85 एक्टिव केस (Active Case) ही शेष बचे हैं, जबकि 16,87,085 लोग संक्रमण (Infection) से ठीक हो चुके हैं। ताजा स्थिति के मुताबिक, 44 जिलों में कोविड (Covid) का भी मरीज नहीं है, तो 18 जिलों में 1-1 मरीज (Patient) ही शेष हैं। बीते 24 घंटों में 1 लाख 78 हजार 229 नमूनों की जांच हुई जहां, केवल लखनऊ, गौतमबुद्ध नगर और आजमगढ़ में 1-1 नए संक्रमित पाए गए और 23 मरीज कोरोना मुक्त भी हुए। देश के दूसरे राज्यों की तुलना में यूपी (UP) की बेहतर स्थिति पर संतोष जताते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने त्योहारों के दृष्टिगत भीड़भाड़ को लेकर सावधानी बरतने के निर्देश दिए हैं।

    शुक्रवार को उच्चस्तरीय टीम-9 के साथ समीक्षा करते हुए सीएम ने कहा कि इसी प्रदेश में बीते 30 अप्रैल को 3,10,786 कोरोना मरीज थे, लेकिन लगातार कोशिशों से आज यह संख्या महज 85 बची है। यह ट्रेस, टेस्ट और ट्रीटमेंट के साथ-साथ तेज टीकाकरण की नीति के सही क्रियान्वयन का नतीजा है। सीएम ने टीकाकरण को और तेज करने के निर्देश भी दिए हैं। 

    रिकवरी रेट 98.7 फीसदी 

    अपर मुख्य सचिव, स्वास्थ्य, अमित मोहन प्रसाद ने मुख्यमंत्री को बताया कि प्रदेश की कोविड रिकवरी दर 98.7 फीसदी है तो पॉजिटिविटी दर 0.01 फीसदी से भी कम हो चली है। उन्होंने बताया कि कोविड टेस्ट और टीकाकरण की देशव्यापी स्थिति में यूपी पहले पायदान पर बना हुआ है। यहां अब तक 12 करोड़ 32 लाख से अधिक वैक्सीन डोज लगाए जा चुके हैं। 9 करोड़ 48 लाख से अधिक लोगों ने टीके की पहली डोज प्राप्त कर ली है। यह टीकाकरण के लिए पात्र प्रदेश की कुल आबादी के 64.35 फीसदी से ज्यादा है। 2 करोड़ 83 लाख से अधिक लोगों ने टीके की दोनों डोज ले ली है।

    महाराष्ट्र-केरल में जारी है कोरोना का कहर

    दूसरे राज्यों के हालात पर नजर डालें तो महाराष्ट्र, केरल और तमिलनाडु में कोरोना का कहर अब भी जारी है। केरल में 82 हजार एक्टिव केस हैं तो महाराष्ट्र में 25 हजार और तमिलनाडु में 13700 से अधिक कोरोना संक्रमित उपचाराधीन हैं। केरल में टेस्ट पॉजिटिविटी दर आज भी 10.3% है तो महाराष्ट्र में 2.1% और तमिलनाडु और कर्नाटक में 1.3% है।

    इन जिलों में एक भी कोरोना मरीज नहीं

    जनपद अलीगढ़, अमरोहा, औरैया, बदायूं, बागपत, बलिया, बलरामपुर, बाराबंकी, बस्ती, बहराइच, बिजनौर, चित्रकूट, देवरिया, एटा, इटावा, फर्रुखाबाद, फतेहपुर, फिरोजाबाद, गोंडा, हमीरपुर, हरदोई, हाथरस, झांसी, कानपुर नगर, कानपुर देहात, कासगंज, कौशाम्बी, कुशीनगर, लखीमपुर-खीरी, ललितपुर, महराजगंज, महोबा,मैनपुरी,मीरजापुर, मुरादाबाद, प्रतापगढ़, रायबरेली, सीतापुर, रामपुर, संत कबीरनगर, शामली, श्रावस्ती, सोनभद्र और उन्नाव में कोविड का एक भी मरीज शेष नहीं है। यह जनपद आज कोविड संक्रमण से मुक्त हैं।