akilesh yadav

    -राजेश मिश्र

    लखनऊ : यूपी विधानसभा चुनावों के लिए समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) और राष्ट्रीय लोकदल के समझौते का मंगलवार को मेरठ (Meerut) में एक साझा रैली मे औपचारिक एलान हो गया। रालोद मुखिया जयंत चौधरी (Jayant Choudhary) से साथ साझा रैली को संबोधित करते हुए सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा कि यूपी (UP) की जनता इस बार भाजपा (BJP)को  खदेड़ देगी और पश्चिम में हमेशा के लिए भाजपा का सूरज डूब जाएगा। उत्तर प्रदेश में बदलाव को कोई रोक नहीं सकता है। इस बार किसानों का इंकलाब होगा, 22 में बदलाव होगा। पूरब से लेकर पश्चिम तक भाजपा का सफाया होगा।

    अखिलेश ने कहा कि चिलमजीवी कभी उत्तर प्रदेश का विकास नहीं कर सकते और जो पलायन की बात करते हैं, वो खुद पलायन करके यहां आए हैं। आरएलडी अध्यक्ष जयंत चौधरी की ओर इशारा करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि हम लोग किसानों की विरासत को आगे बढ़ाएंगे।

    किसानों को उनका हक और सम्मान दिलाएंगे

    यादव ने ऐतिहासिक भीड़ के लिए समाजवादी पार्टी राष्ट्रीय लोक दल के नेताओं कार्यकर्ताओं और विशाल जनसभा में आने वाले किसानों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन की सफलता के लिए हमारे किसानों को बहुत बड़ी कुर्बानी देनी पड़ी है। इस आंदोलन में 700 से ज्यादा किसान शहीद हुए। हम यहां से वादा करके जा रहे हैं कि किसानों को उनका हक और सम्मान दिलाएंगे। यादव ने कहा कि हमारे किसानों के लिए जो कृषि बिल लाए गए थे, वे उनके हित के नही थे,  किसानों ने एकजुट होकर संदेश दे दिया है कि अगर उनके हित की बात नही होगी, तो वो भाजपा का दरवाजा बंद कर देंगे, और यहां के किसानों ने तय किया है और दरवाजा बंद करके सिटकनी लगा दी है। भाजपा के समर्थकों ने किसानों को अपमानित किया। जीप से कुचल दिया। मान और सम्मान छीना तो किसानों ने तय कर लिया है कि भाजपा को सत्ता से हटाना है और उसका सफाया करेंगे।

    पुलिस कस्टडी में सबसे ज्यादा मौतें हुई: अखिलेश

    अखिलेश यादव ने कहा कि आज किसानों को खाद नही मिल रही। खाद के लिए लाइन लगाना पड़ रहा है। इससे पहले बीमारी के दौर में दवा के लिए, ऑक्सीजन के लिए लाइन में लगना पड़ा। नोटबंदी में अपने पैसे के लिए लाइन में लगना पड़ा। 2022 के चुनाव में जनता लाइन में लगकर भाजपा को सत्ता से बेदखल करेगी। भाजपा सरकार ने महंगाई बहुत बढ़ा दी। डीज़ल, पेट्रोल रसोई गैस महंगा, डीएपी खाद महंगा हो गया। महंगाई दुगनी हो गई और किसानों की आय आधी हो गई। आज नौजवान बेरोजगार है। इस सरकार ने नौकरियों और रोजगार का इंतजाम नहीं किया। किसानों, नौजवानों, बेरोजगारों से झूठ बोला। नौजवान नौकरी मांगने गया तो उस पर लाठी बरसाई गई। जहां नौकरी मिलनी थी, भाजपा सरकार ने वो सरकारी संस्थाएं बेच दी। पानी के जहाज़, एयरोप्लेन बेच दिया, बंदरगाह और एयरपोर्ट बेच दिया। भाजपा सरकार में लोगों को अपमानित किया गया। पुलिस कस्टडी में सबसे ज्यादा मौतें हुई। फर्जी एनकाउंटर हुए। लोगों को झूठे मामलों में जेल भेजा गया। भाजपा सरकार ने किसानों के खेत बर्बाद हो गए। छुट्टा जानवरों ने फसलों को तहस-नहस कर दिया। किसानों को अपनी फसल बचाने के लिए रात-रात भर जागना पड़ता है। यह नफरत फैलाने वाली सरकार है। समाज में खाई पैदा करती है। उन्होंने कहा कि जो हमारे और आपके बीच जो पैदा करे खाई, समझिए वही है भाजपाई।

    भाजपा ने गन्ना किसानों से किया गया वादा पूरा नहीं किया

    प्रदेश में सरकार बनने पर किसानों से गन्ना किसानों का बकाया भुगतान का वादा करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि इस सरकार में हजारों करोड़ रुपए गन्ना का बकाया है। भाजपा ने गन्ना किसानों से किया गया वादा पूरा नहीं किया। उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों के बकाया भुगतान के लिए हम अपनी सरकार में एक अलग से किसान फंड बनाएंगे। जिससे गन्ना किसानों का समय पर भुगतान हो सके।