Know why Yamraj of Nashik came to Mohapada Residential School

    सुरगाणा : तहसील के मोहपाडा (Mohapada) में अनुदानित आश्रम विद्यालय में भारतरत्न (Bharat Ratna) डॉ. बाबासाहब आंबेडकर (Dr. Babasaheb Ambedkar) के महापरिनिर्वाण दिन के अवसर पर “मेरा कचरा मेरी जिम्मेदारी”  योजना चलाई गई। इस मौके पर विद्यालय के प्रमुख शिक्षक सुभाष दलवी के हाथों डॉ. बाबासाहब आंबेडकर की प्रतिमा का पूजन किया गया। उसके बाद यमराज के अवतार में सेवानिवृत्त अभियंता मिलिंद पगारे के साथ मोहपाडा गांव से जनजागृती फेरी निकाली गई।

    इस अवसर पर गांव के नागरिकों को प्लॅस्टिक के कमी, प्लॅस्टिक मुक्त गांव इस विषय पर जनजागृती की गई। शिक्षक और विद्यार्थी ‘एक ही आधार, प्लास्टिक को करें हदपार, एैसी विभिन्न घोषणाएं देते हुए जनजागृती फेरी में भाग लिया। स्कूल के मैदान पर वसुंधरा मित्र मिलिंद पगारे ने प्लॅस्टिक का पुनर्वापर और उपयोग में ना आने वाले प्लास्टिक से वस्तू बनाने का प्रशिक्षण दिया। इस अवसर पर प्लास्टिक  बोतल और चॉकलेट, बिस्किट के प्लास्टिक कचरे से स्टूल बनाया गया।

    मिलिंद पगारे महाराष्ट्र के विभिन्न स्कूलों और कॉलेजों में मार्गदर्शन का कार्य करते हैं। वह नाशिक रोड में सेवानिवृत्त अभियंता हैं और समाज जागृती के लिए महाराष्ट्र और अन्य राज्यों में विभिन्न जगहों पर प्रबोधन और समाजजागृती के काम करते हैं। इस मौके पर मुख्याध्यापक सुभाष दलवी, कार्यक्रम संयोजक नामदेव वाजे के साथ सभी शिक्षक, गैरशिक्षक कर्मचारी और विद्यार्थी उपस्थित थे।