विश्व अर्थव्यवस्था 2017 में 2.7 प्रतिशत बढ़ेगी : विश्वबैंक

 वाशिंगटन. विश्वबैंक का अनुमान है कि 2017 में विश्व अर्थव्यवस्था 2.7 प्रतिशत बढेगी जो एक अच्छा संकेत है. विश्वबैंक की एक ताजा रपट में साथ में यह भी कहा गया है कि विश्व व्यापार में ठहराव, निवेश में सुस्ती और नीतियों को लेकर अनिश्चितताओं के चलते यह वर्ष भी चुनौतियों भरा ही रहेगा.  विश्वबैंक के अध्यक्ष जिम याँग किम ने कहा कि कई साल तक वैश्विक आर्थिक वृद्धि के निराशजनक रहने के बाद आर्थिक संभावनाओं का परिदृश्य अपेक्षाकृत सशक्त दिख रहा है जिससे हम उत्साहित हैं. इस बहुराष्ट्रीय वित्तीय संगठन की रपट के अनुसार 2016 में वैश्विक आर्थिक वृद्धि 2.3 प्रतिशत रही जो 2008 के वैश्विक संगठ के बाद की वृद्धि का निम्न स्तर है.  जिम ने कहा है, 'अब इस आवेग का फायदा उठाने का अवसर है और इसके लिए बुनियादी ढांचे और व्यक्तियों पर निवेश बढाने की जरुर है.  उन्होंने कहा कि समावेशी आर्थिक वृद्धि और निपट गरीबी को समाप्त करने के लिए आर्थिक वृद्धि में इस सुधार की गाति को और तेज तथा मजबूत करना बहुत जरुरी है.  विश्वबैंक की वैश्विक आर्थिक संभावना रपट में अनुमान है कि 2017 में विकासित अर्थव्यवस्थाओं की वृद्धि कुल मिला कर थोड़ा सुधार के साथ 1.8 रहेगी जबकि उभरती और विकासशील अर्थव्यवस्थाओं की वृद्धि 2016 के 3.4 प्रतिशत की तुलना में 4.2 प्रतिशत रहेगी.

   रपट के अनुसार विभिन्न अर्थव्यवस्थाओं खास कर अमेरिका में राजकोषीय प्रोत्साहन से घरेलू और वैश्विक वृद्धि को और गति मिल सकती है. लेकिन व्यापार में संरक्षणवाद के बढ़ने से प्रतिकूल असर पड़ सकता है.  विश्वबैंक का कहना है कि उभरते और विकासशील देशों में निवेश की वृद्धि में हाल में दिखी कमजोरी चिंता का विषय है. 2016 में निवेश की वृद्धि 2015 की 3.4 प्रतिशत की गिरी दर से भी थोड़ी कम रही. 2010 में निवेश में सालाना वृद्धि 10 प्रतिशत थी.  वर्ष 2017 में निवेश में वद्धि पिछले साल की तुलना में भी आधा प्रतिशत कम रहने की संभावना है.
    विश्वबैंक के मुख्य अर्थशास्त्री पाल रोमर ने कहा कि 'हम सरकारों की इस काम में मदद कर सकते हैं कि वे निजी क्षेत्र को विश्वास के साथ निवेश करने के और अधिक अवसर प्रस्तुत कर सकें. निजी क्षेत्र जो नई पूंजी सृजित करेगा उससे वैश्विक सम्पर्क के बुनियादी ढ़ाचे की कमियों को पूरा किया जा सकता है. वर्ष 2017 में चीन की वृद्धि दर घट कर 6.5 प्रतिशत रहने का अनुमान है. अमेरिका 2.2 प्रतिशत वृद्धि दर्ज कर सकता है.